Top
Home > Archived > अखिलेश ने कहा घटा वोट तो परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें अफसर

अखिलेश ने कहा घटा वोट तो परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें अफसर

 Special News Coverage |  19 March 2016 6:48 AM GMT

अखिलेश ने कहा घटा वोट तो परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें अफसर
उत्तर प्रदेश: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आईएएस सप्ताह के दूसरे दिन विधानभवन स्थित तिलक हाल में उत्तर प्रदेश कैडर के अधिकारियों से कहा कि हमें पता है कौन क्या कर रहा है, काम के तमाम वीडियो मौजूद हैं। मुख्यमंत्री ने जनता का सेवक का दावा करने वाले आइएएस अफसरों को खरी-खरी सुनाई। बोले,'जब आप पर कार्रवाई होती है, तब जनता खुश होती है। वोट बढ़ता है। फिर भी हम प्यार से काम ले रहे हैं, जबकि हमारा तो इम्तिहान जनता लेती है। समय भी करीब है। फेल हुआ तो आप जिम्मेदार होंगे।


अखिलेश ने कहा कि जनता को मेट्रो व एक्सप्रेस वे से कुछ लेना देना नहीं है तहसीलों, थानों से लेकर डीएम कार्यालय तक बस उन्हें न्याय मिलना चाहिए। आईएएस अफसरों के लिए अपने दरवाजे खुले होने का एहसास कराते हुए कहा कि उन्होंने कई वर्षों से बंद आईएएसवीक फिर से बहाल कराया। उन्होंने कहा कि किसी भी राज्य में आईएएस एकादश व मुख्यमंत्री एकादश के बीच क्रिकेट नहीं होता, यह परंपरा भी हमने शुरू की।

स्वयंसेवी संस्थाओं व बैंकों के साथ मिलकर चौराहों के सुंदरीकरण व सड़कों के चौड़ीकरण के लिए जौनपुर के डीएम भानुचन्द्र गोस्वामी व आजमगढ़ के डीएम सुहास एलवाई की खूब सराहना की। प्रमुख सचिव (ऊर्जा) संजय अग्रवाल की सराहना करते हुए कहा कि उनके प्रयासों से हम सभी को ज्यादा बिजली दे पा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने पास खड़े प्रमुख सचिव (सिंचाई) दीपक सिंघल की ओर इशारा करते हुए कटाक्ष किया कि यह गोमती का काम देख रहे हैं, कई नाले गोमती में गिर रहे हैं, जिसे वह छिपा रहे हैं। मुख्यमंत्री आवास के पास एक छात्रा की हत्या का उल्लेख करते हुए अखिलेश ने कहा कि सिर्फ लघुशंका के लिये नीचे उतरने पर छात्रा के साथ बर्बरता हुई। अगर शौचालय होता तो शायद वारदात नहीं होती।

आईएएसवीक की बैठक से बाहर निकले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पत्रकारों से कहा कि समाजवादी सरकार फिर लौटेगी, किसी को गलतफहमी नहीं होनी चाहिए। सर्वे में सपा के पीछे होने के सवाल पर कहा कि चुनाव दूसरे राज्यों में हो रहे हैं और सर्वे उत्तर प्रदेश का आ रहा है।अभी कई दलों के “दूल्हे” सामने आने बाकी हैं सामने आने दीजिए, सब साफ हो जाएगा।
एक अन्य सवाल पर कहा कि आइएएस अधिकारियों को जितनी आजादी हमने दी है, उतनी किसी सरकार ने नहीं दी। कुछ अधिकारी अच्छा काम कर रहे हैं, मगर कुछ ठीक नहीं कर रहे हैं। अधिकारियों से एक साल के अंदर विकास से जुड़ी हर परियोजना पूरी करने की अपेक्षा की है।सरकार की चल रही योजनाओं का प्रचार प्रसार भी करना है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it