Home > Archived > कोंग्रेस बताये वो जान लेने वालों या जान देने वालों के - अनुराग ठाकुर

कोंग्रेस बताये वो जान लेने वालों या जान देने वालों के - अनुराग ठाकुर

 Special News Coverage |  24 Feb 2016 12:17 PM GMT

anurag thakur

नई दिल्ली
जेएनयू विवाद को लेकर भाजपा के युवा मोर्चा के अध्यक्ष एवं सांसद अनुराग ठाकुर ने लोकसभा में कहा कि कांग्रेस को यह तय करना होगा कि वह देश के लिए जान देने वालों के साथ है या देश के लोगों की जान लेने वालों के साथ है।




अनुराग ठाकुर ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा कि वह जेएनयू में देश द्रोही नारा लगाने वाले लोगों का समर्थन करने वहां पर गए, लेकिन इनकी पार्टी की तरफ से कोई भी व्यक्ति कैप्टन पवन कुमार के घर नहीं जाता। इन लोगों को बताना होगा कि यह अफजल गुरु को आतंकी मानते हैं या नहीं। उनोहने कहा कि मेरे दादा जी सेना में रहे हैं और उनोहने ही लोकसभा में वन रैंक वन पेंशन का मुद्दा सबसे पहले उठाया था, इसलिए सेना के प्रति मेरा सम्मान है।




जेएनयू में राहुल गांधी के जाने के मुद्दे को उठाते हुए अनुराग ने कहा कि वह वहां पर उन लोगों के साथ बैठे जिनोहने छत्तीसगढ़ में मारे गए जवानों पर भी टिप्पणी की थी। कहा जा रहा है कि हम जेएनयू को खत्म करना चाहते हैं, लेकिन यहां पर मानव संसाधन विकास मंत्री बैठीं हैं जो यह बता सकती हैं कि हमने यूनिवर्सिटी को देने वाले फंड में कोई कमी की है या नहीं। उन्‍होंने कहा कि मैं यह जरूर कहूंगा कि टेक्सपेयी के पैसे को हम ऐसे लोगों को पर खर्च नहीं करेंगे।

जेएनयू में लगे देश विरोधी नारों पर बोलते हुए अनुराग ने कहा कि ऐसे नारे अभिव्‍यक्ति की आजादी हैं तो हम ऐसी आजादी नहीं देंगे। कांग्रेस के लोग बताए कि क्या वह फिर से संसद पर हमले कराना चाहती है। कांग्रेस कश्मीर की बात करती हैं लेकिन इनोहने मुझे ही तिरंगा फराहने के लिए जेल में डाला।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top