Home > Archived > चीफ इकॉनॉमिक एडवाइजर अरविंद सुब्रमण्यम बोले, बीफ बैन पर बोला तो मेरी नौकरी चली जाएगी

चीफ इकॉनॉमिक एडवाइजर अरविंद सुब्रमण्यम बोले, बीफ बैन पर बोला तो मेरी नौकरी चली जाएगी

 Special News Coverage |  9 March 2016 7:24 AM GMT

Arvind subramanian


नई दिल्ली : मोदी सरकार के चीफ इकॉनॉमिक एडवाइजर अरविंद सुब्रमण्यम ने कहा है कि अगर उन्होंने बीफ बैन पर कोई कमेंट किया तो उनकी नौकरी भी जा सकती है। मुंबई यूनिवर्सिटी में मंगलवार को छात्रों से बात से बातचीत के दौरान एक सवाल के जवाब में उन्‍होंने यह टिप्‍पणी की।

दरअसल, जब उनसे पूछा गया था कि क्‍या बीफ बैन से किसानों की कमाई और ग्रामीण अर्थव्‍यवस्‍था पर विपरीत असर पड़ेगा। उन्‍होंने कहा,’आप जानते हैं कि यह मैंने इस सवाल का जवाब दिया तो मेरी नौकरी चली जाएगी। लेकिन सवाल पूछने के लिए धन्‍यवाद।’ सुब्रमणयम ने सवाल का जवाब तो नहीं दिया लेकिन उन्होंने जो जवाब दिया उस पर पूरे हॉल में तालियां बज उठीं।


आपको बता दें पिछले हफ्ते बेंगलुरु में एक लेक्चर के दौरान सुब्रमण्यम ने कहा था कि अगर समाज बंटा हुआ है तो उसका असर इकोनॉमिक डेवलपमेंट पर भी पड़ता है। उनके इस बयान का कुछ लोगों ने विरोध किया था।

कौन हैं अरविंद सुब्रमण्यम?
सेंट स्टीफंस कॉलेज से ग्रेजुएशन करने वाले अरविंद मशहूर इकोनॉमिस्ट और भारत सरकार के चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर हैं। वो आईएमएफ और जी-20 में भी रह चुके हैं। उन्हें दुनिया के सबसे बेहतरीन इकोनॉमिस्ट्स में से एक माना जाता है। फॉरेन पॉलिसी’ मैगजीन 2011 में उन्हें दुनिया के 100 टॉप थिंकर्स की लिस्ट में जगह दी थी। सुब्रमण्यम ने ‘इक्लिप्‍स : लिविंग इन द शैडो ऑफ चाइनाज इकोनॉमिक डोमिनेंस’ किताब लिखी है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top