Top
Begin typing your search...

2017 में नहीं होगी यूपी में बाप-बेटे की सरकार

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
CaW8rZlUEAAV8a2
फैजाबाद
यूपी के फैजाबाद में गुरुवार को अपनी पहली चुनावी रैली को संबोध‍ित करते हुए AIMIM के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र की मोदी सरकार को दलित और मुसलमान विरोधी करार दिया। ओवैसी ने आरोप लगाया कि सरकार दूसरे जरूरी मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए ही ISIS के नाम पर देशभर से युवाओं को हिरासत में ले रही है। ओवैसी ने लखनऊ में रोहित को याद करते हुए पीएम के भावुक होने को फिल्मी सीन करार दिया।

यूपी में उपचुनाव के मद्देनजर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्‍तेहादुल मुस्‍लीमीन के अध्‍यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने अपनी इस पहली चुनावी रैली में केंद्र और राज्य सरकार दोनों को कोसा।





यूपी सरकार ने मुझे रोकने की कोशिश की
प्रदेश की अखि‍लेश सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यूपी की सपा सरकार ने मुझे राज्य में आने से रोकने का प्रयास किया। उन्होंने सारे जतन लगा लिए ताकि वह यह सुनिश्चि‍त कर सकें कि मैं अपनी रैली में गरीबों, मुलसमानों और दलितों का मुद्देा नहीं उठाऊं। अगर लोहिया आज जिंदा होते तो वह मेरा हाथ पकड़कर आज मुझे यहां लाते।

एआईएमआईएम चीफ ने कहा कि उन्हें उत्तर प्रदेश आने से कोई नहीं रोक सकता है। उन्होंने कहा कि मैंने यूपी के हर इलाके में जाउंगा और पब्लि‍क ट्रांसपोर्ट में सफर करूंगा।




2017 में नहीं होगी बाप-बेटे की सरकार
ओवैसी ने आगे कहा कि राज्य में शासन के नाम पर मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव दोनों ड्रामा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक दिन पिता कहते हैं कि बेटा काम नहीं कर रहा, दूसरे दिन बेटा कहता है कि सरकार बहुत अच्छा काम कर रही है। 2017 में राज्य में किसी बाप-बेटे की सरकार नहीं होगी।


फिल्मी सीन जैसा है मोदी का रोना

सांसद ने हैदराबाद यूनिवर्सिटी में छात्र रोहित वेमुला की मौत पर सियासत को नाटक करार देते हुए कहा कि सच्चाई यह है कि कोई अंबेडकर को लेकर पार्टियों का सम्मान फर्जी है। रोहित ने इसलिए आत्महत्या की कि शैक्षणि‍क संस्थानों में अगड़ी जाति के लोग दलितों को दबाने की कोशि‍श करते हैं।प्रधानमंत्री जब लखनऊ आए तो भाषण के दौरान भावुक हो गए। एक मिनट के लिए चुप हो गए। मुझे तो ऐसा लगा जैसे फिल्म 'मुगल-ए-आजम' का कोई सीन चल रहा हो।

ओवैसी ने दादरी हिंसा का मामला उठाते हुए कहा कि अखलाक की हत्या सिर्फ इसलिए हुई कि वह एक मुसलमान था। अखि‍लेश पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यहां के मुख्यमंत्री सिर्फ इसलिए नोएडा नहीं जाएंगे कि उनकी कुर्सी चली जाएगी, क्या यह एक प्रोग्रेसिव सोच वाला नेता ऐसा करता है।

Special News Coverage
Next Story
Share it