Home > Archived > किसी एक को चुनें, पानी या 100 करोड़

किसी एक को चुनें, पानी या 100 करोड़

 Special News Coverage |  10 April 2016 8:13 AM GMT

किसी एक को चुनें, पानी या 100 करोड़

मुंबई: बीसीसीआई ने शनिवार को महाराष्ट्र सरकार से कहा कि वो तय करे कि पानी और 100 करोड़ में से सरकार को क्या चाहिए। BCCI सेक्रेटरी अनुराग ठाकुर के मुताबिक आईपीएल मैचों को दूसरे राज्य में शिफ्ट करने पर महाराष्ट्र को करीब 100 करोड़ रुपए का नुकसान होगा। महाराष्ट्र में सूखे के हालात को देखते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट में आईपीएल मैचों को दूसरे राज्य में शिफ्ट करने की पिटीशन पर सुनवाई चल रही है। मामले की अगली सुनवाई 12 मार्च को है।


अनुराग ठाकुर ने कहा की महाराष्ट्र में होने वाले 20 मैचों से राज्य को 100 करोड़ का रेवेन्यू मिलेगा। आईपीएल से होने वाली इस इनकम का सरकार सूखे से निपटने में इस्तेमाल कर सकती है। बीसीसीआई सूखे से प्रभावित कुछ गांवों को अडॉप्ट भी कर सकती है। आईपीएल के 20 मैच महाराष्ट्र के तीन शहरों मुंबई, पुणे और नागपुर में होने हैं।

शुक्रवार को सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि भले ही आईपीएल मैच दूसरे राज्य में शिफ्ट हो जाएं, हम आईपीएल को पीने का पानी नहीं देंगे। पिटीशन में दावा किया गया है कि आईपीएल के दौरान महाराष्ट्र के तीन स्टेडियम में करीब 60 लाख लीटर पानी यूज होगा। बुधवार को हाईकोर्ट ने बीसीसीआई को लताड़ लगाते हुए कहा, यह पानी की बर्बादी है। मैच शिफ्ट किया जाना चाहिए।

मराठवाड़ा में लोगों को तीन-तीन दिन तक पानी नहीं मिलता। पूर्व जर्नलिस्ट केतन तिरोडकर ने पीआईएल दायर की है। उन्होंने आईपीएल कमिश्नर से 1 हजार रुपए लीटर के हिसाब से टैक्स लेने की बात कही है। वकील का कहना है कि इंटरनेशनल मेंटेनेंस फॉर पिच गाइडलाइन्स के मुताबिक, एक मैच के लिए ग्राउंड मेंटेनेंस में करीब 3 लाख लीटर पानी लगता है। लातूर जिले के लोगों को हर दिन सिर्फ 55 हजार लीटर पानी मिलता है। इनमें हर घर के हिस्से सिर्फ 20 लीटर पानी आता है।

महाराष्ट्र में साल 2016 में औसतन हर महीने 90 किसानों ने आत्महत्या की है। कई जलाशयों में पानी 4 फीसदी से भी कम बचा है। इस मुद्दे पर मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन का कहना है कि आईपीएल मैचों के टिकट पहले ही बिक चुके हैं और अगर मैचों को रद्द किया गया तो काफी नुकसान होगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top