Top
Home > Archived > खुलासा : केजरीवाल के पीए ने खुद पुलिसकर्मी को मंच से उतारा था ?

खुलासा : केजरीवाल के पीए ने खुद पुलिसकर्मी को मंच से उतारा था ?

 Special News Coverage |  19 Jan 2016 6:40 AM GMT

ink incident


नई दिल्ली : दिल्ली के छात्रसाल स्टेडियम में 2 दिन पहले हुए स्याहीकांड पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा में लगे एक पुलिसकर्मी चौंकाने वाला खुलासा किया है। एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार इस पुलिसकर्मी ने कहा है कि जब मुख्‍यमंत्री पर महिला ने स्‍याही फेंकी थी उससे कुछ देर पहले ही स्‍टेज पर मुख्‍यमंत्री की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को पीए ने वहां से हटा दिया गया था।

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक पुलिसकर्मी ने बयान दिया है केजरीवाल के पीए ने मंच पर मौजूद कार्यकर्ताओं से कहा था मंच पर किसी भी ऐसे व्यक्ति को नहीं चढ़ने दिया जाए जो पुलिस की वर्दी में हो। उसके बाद उक्त पुलिसकर्मी स्टेज से उतरकर वहां पहुंच गया जहां और पुलिसकर्मी मौजूद थे। सुरक्षा में तैनात जवान के मुताबिक इसी वजह से वो महिला केजरीवाल के इतने करीब आ पाई।


स्याही फेंकने वाली युवती भावना अरोड़ा से पूछताछ कर रही है। उसे एक दिन के रिमांड पर रख कर पुलिस अधिकारियों की एक टीम द्वारा पूछताछ कर यह जानने की कोशिश की गई कि क्या उसने ऐसा किसी के कहने पर किया है। सूत्रों ने बताया कि उसके कॉल रिकॉर्ड्स की जांच कर पता लगाया जा रहा है कि वह किन लोगों के संपर्क में थी।

गौरतलब है कि रविवार को ऑड-ईवन कार्यक्रम के दौरान सीएम केजरीवाल पर भावना अरोड़ा नाम की एक महिला ने स्याही फेंक दी थी जिसके बाद उसे सोमवार को एक दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। खुद को आम आदमी सेना संगठन की पंजाब प्रभारी बताने वाली भावना ने दिल्ली सरकार पर सीएनजी सिलेंडर के फिटनेस सर्टिफिकेट का घोटाले का आरोप लगाया था। भावना के मुताबिक सीएनजी कार में जिस सिलेंडर का इस्तेमाल होता है उसके फिटनेस सर्टिफिकेट देने में धांधली हुई।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it