Home > Archived > बिहार में फर्जी IPS अधिकारी गिरफ्तार, ले रखे थे सरकारी गनर

बिहार में फर्जी IPS अधिकारी गिरफ्तार, ले रखे थे सरकारी गनर

 Special News Coverage |  24 April 2016 7:29 AM GMT

IPS-officer-arrested-in-Begusarai
बेगूसराय
बिहार के बेगुसराय जिला पुलिस ने एक फर्जी आईपीएस अधिकारी को गिरफ्तार किया है। खबर के मुताबिक पता चला है कि फर्जी आईपीएस अधिकारी सुरक्षा गार्ड की मांग को लेकर एसपी के पास गया था। जिला के पुलिस अधीक्षक रंजीत कुमार मिश्रा ने शनिवार को संदेह होने के बाद उक्त व्यक्ति से सख्ती से पूछताछ की तो उसका फर्जीवाड़ा सामने आया।

क्या था मामला
बताया जा रहा है कि आशीष आनंद नाम का यह शख्स पिछले कई दिनों से शहर में नीली बत्ती लगाकर थाने के पुलिसकर्मियों को धौंस दिखा रहा था। उसके तेवर और रहन-सहन को देख कर पुलिस अधीक्षक ने भी उसे सरकारी अंगरक्षक की सुविधा मुहैया करा दी थी। शनिवार को अंगरक्षक की मांग को लेकर एसपी रंजीत कुमार मिश्र से मिलने उनके दफ्तर पहुंचा था लेकिन एसपी को उसके आईपीएस होने पर शक हो गया। इसके बाद उसे हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की गई तो हकीकत सामने आयी इतना ही नहीं उसे दो सरकारी अंगरक्षक भी मिले हुए थे जिसे वह शनिवार को आरक्षी अधीक्षक कार्यालय में रिन्यूअल कराने आया था। इसके बाद नगर थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि आशीष के पिता सिविल एसडीओ के पद से रिटायर हुए थे और पूरे परिवार के साथ वह बोकारो में रह रहा था।



मिली जानकारी के अनुसार वह पुलिस अधीक्षक कार्यालय से गुप्त सूचनाएं भी साझा किया करता था। न सिर्फ आरक्षी अधीक्षक कार्यालय से बल्कि अन्य महत्वपूर्ण कार्यालयों से भी गुप्त सूचनाएं एकत्रित किया करता था। पुलिस इस मामले में पता लगाने की कोशिश कर रही है की ये सूचनाएं किसे देता था।

IPS बन कर करता था ठगी
आरोपी IPS अधिकारी बन शहर में ठगी का भी काम करता था। उसने कई बैंकों की ऋण के दस्तावेज दिखाकर बैंक अधिकारियों को ठगने का भी काम करता था। उसके पास से मोबाइल, ATM कार्ड, झारखण्ड के नंबर वाली एक स्कॉर्पियो जिस पर पुलिस का लोगों लगा हुआ है और कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज भी मिले हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने कहां और किस जगह से कितनी राशि ठगी है। इसकी जांच की जा रही है। जिससे कुछ और नए तथ्य मिलने की उम्मीद है। आरोपी के पास से मिले मोबाइल की भी जांच की जा रही है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top