Home > Archived > नीतीश से अलग होंगे लालू!

नीतीश से अलग होंगे लालू!

 Special News Coverage |  7 April 2016 10:23 AM GMT


363274-nitish700
पटना/लखनऊ
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आगामी यूपी विधानसभा के चुनावी महासंग्राम में कूदने की लगभग पूरी तैयारी कर लिए हैं। वहीं, राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू यादव यहां नीतीश कुमार का साथ छोड़ते दिखाई दे रहे हैं। लालू यादव यूपी में सियासी रिश्तों की बजाय पारिवारिक रिश्ते को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं। लालू समधी अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री ही देखना चाहते है। क्योंकि असली समधी तो अखिलेश है मुलायम तो समधी के चाचा है।


आपको बता दें कि सांसद तेज प्रताप सिंह अखिलेश के भाई के बेटे है। और मुलायम के नाती है।

बिहार में पूर्ण शराबबंदी के फैसले के बाद नीतीश कुमार को मिला अपार समर्थन उनके लिए उत्तर प्रदेश में संजीवनी का काम कर सकता है। नीतीश का कुनबा शराबबंदी को उत्तर प्रदेश में चुनावी मुद्दा बनाने की तैयारी में हैं। नीतीश के नेतृत्व में संभावित राष्ट्रीय जन विकास पार्टी उत्तर प्रदेश के चुनाव में पूरी दमखम से उतरने की तैयारी में हैं। इससे पहले जेवीएम, रालोद और जदयू नेताओं ने तीनों पार्टी के विलय को अंतिम रूप देने में जुटे हैं। सूत्रों के मुताबिक, शराबबंदी को संभावित राष्ट्रीय जन विकास पार्टी यूपी में चुनावी मुद्दा बना सकती है।

लालू-नीतीश मुलाकात
इधर, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और सीएम नीतीश कुमार बुधवार को मुलाकात कर भावी रणनीतियों पर चर्चा भी की है। जानकारी के मुताबिक, लालू प्रसाद अपने समधी मुलायम सिंह यादव के खिलाफ चुनाव में सक्रिय भागीदारी करने के मूड में नहीं है। लालू राजनीति के बजाय रिश्ते को अधिक तवज्जो दे रहे हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top