Home > Archived > VIDEO : साक्षी महाराज बोले, इस्‍लाम में महिलाओं को समझते हैं पैरों की जूती

VIDEO : साक्षी महाराज बोले, इस्‍लाम में महिलाओं को समझते हैं पैरों की जूती

 Special News Coverage |  16 April 2016 11:09 AM GMT



साक्षी महाराज

उन्नाव (जितेन्द्र मिश्रा) : अपने बयानों से हमेशा सुर्ख़ियों में रहने वाले भाजपा सांसद साक्षी महाराज आज उन्नाव पहुंचकर एक बार फिर विवादित बयान दिया है।

साक्षी महाराज ने गौ हत्या को लेकर इजरायल और रूस में बने कानून का हवाला देते हुए कहा की जिस तरह गौ हत्या करने वालों को इजरायल और रूस में 72 घंटे में फांसी दिए जाने का कड़ा कानून आया है। उसी तरह देश में भी गौ हत्या के लिए ऐसा ही कानून बनना चाहिए और इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी से अपील करने की बात कही।


शनि शिंगणापुर मंदिर पर भी बोले
शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर मचे राजनीतिक घमासान के बाद आये कोर्ट के फैसले ने भले ही मामले को ठन्डे बस्ते में डाल दिया हो लेकिन आज उन्नाव पहुंचे भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने इस्लाम धर्म को लेकर एक विवादित बयान देकर आग में घी डालने का काम किया है। साक्षी ने कोर्ट से अपील करते हुए कहा की जिस तरह मंदिरो में महिलाओं के प्रवेश को लेकर कोर्ट ने हस्तक्षेप किया है उसी तरह इस्लाम धर्म में भी कोर्ट को हस्तक्षेप करना चाहिए।

साक्षी ने इस्लाम में भी महिलाओं को नमाज अदा करने का अधिकार दिए जाने का कोर्ट से आग्रह किया। यही नहीं साक्षी ने इस्लाम धर्म में महिलाओं को पैर की जूती समझे जाने का आरोप लगाते हुए कहा की जिस तरह पैर की जूती को जब मन आया इस्तेमाल किया जाता है फिर उतार दिया जाता है। उसी तरह इस्लाम में महिलाओं के साथ हो रहा है। साक्षी ने कहा की देश फतवो से नहीं संविधान से चलना चाहिए।

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती पर भी साधा निशाना
वहीं, शंकराचार्य द्वारा दिए गए विवादित बयान को लेकर भी साक्षी ने जमकर हल्ला बोला। साक्षी ने शंकराचार्य के इस बयान को जहाँ देश में विघटन फैलाने वाला बयान बताया। वही शंकराचार्य के पद पर विराजमान स्वरूपानंद सरस्वती पर भी सवाल खड़े किये।

यही नहीं साक्षी ने शंकराचार्य पर कांग्रेसी मानसिकता से ग्रसित होने का आरोप लगाते हुए कहा की जिस तरह कांग्रेस फूट डालो वाली राजनीती करती है। उसी तरह शंकराचार्य भी कांग्रेस से पोषित और निर्मित है। और तो और साक्षी ने शंकराचार्य को इस मुद्दे पर बहस करने का भी निमंत्रण दिया।

Tags:    
Share it
Top