Top
Begin typing your search...

भारत पाक सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल का जवान गिरफ्तार

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
BSF
राजस्थान के भारत पाक सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल के एक कांस्टेबल को मोहाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी जवान श्रीगंगानगर के बीएसफ 52 बटालियन का कांस्टेबल अनिल कुमार है और अमृतसर का रहने वाला है। अनिल रायसिंह नगर से पाक के लिए जासूसी करते हुए पकड़ा गया ह

दरअसल मोहाली पुलिस की ओर से पकडे गए तीन गैंगस्टर की गयी पूछताछ में सामने आये तथ्यों के बाद इसे पकड़ा गया है। कांस्टेबल अनिल तस्कर गुरजंट सिंह उर्फ़ भोलू की मदद से पाकिस्तानी तस्कर इम्तियाज के संपर्क में आया। आरोप है कि कांस्टेबल हेरोइन व् हथियार वार्डर पार कराने में गुरजंट की मदद करता था। गुरजंट ने बताया की वहलोग इसकी मदद से अब तक 70 80 किलो हेरोइन पाक से पंजाब ला चुके है। गुरजंट की इम्तियाज से मुलाक़ात थाइलैंड में हुई थी। गुरजंट 2010 में थाइलैंड गया था तब उसकी मुलाक़ात वहीँ पर पाकिस्तानी तस्कर इम्तियाज से हुई थी। इम्तियाज ने गुरजंट को तीन पाकिस्तानी सिम और एक मोबाइल दिया था।


कांस्टेवल अनिल ने बताया कि गुरजंट और उसके साथियों की मदद करने कर एवज में उसे अबतक डेढ़ लाख रुपये मिले है। एकबार उसे 50 हजार रुपये मिले और उसकी पत्नी के एकाउंट में दो बार 39 और 40 हजार डाले गए। गुरजंट और उसके साथी उसे गरीबी दूर करने का लालच देकर यह काम कराते थे।

पूर्व गृह सचिव आर के. सिंह ने कहा इस मामले में पूरी जांच पाकिस्तान को करनी है। आर. के. सिंह ने ड्रग तस्करी के मामले को बहुत ही गंभीर बताया और कहा की इसमे पाकिस्तान का हाथ है। उन्होंने कहा कि अगर ड्रग्स देश में आती है तो इसमे जरूर अधिकारियों की मिलीभगत होगी। मेरे समय भी ऐसी शिकायतें मिली थी और हमने कार्रवाई भी की थी। पंजाब सरकार को भी कार्रवाई करनी होगी।

मोहाली के एसएसपी गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि क्रॉस बॉर्डर िस्मग्लिंग के आरोप में बीएसएफ जवान अनिल कुमार को गिरफ्तार किया गया है। ये आपस में गूगल मैप की साइट खोलकर आपस में संपर्क करते थे और ड्यूटी तय करते थे। मैप के जरिये पाकिस्तानी और भारत की सीमा पर ड्यूटी मैच करते थे। इसमे जो भी अधिकारी शामिल है उनके रोल की जाँच हो रही है।
Special News Coverage
Next Story
Share it