Top
Home > Archived > सीएजी रिपोर्ट : बजट की राशि खर्च नहीं कर पाई बिहार सरकार

सीएजी रिपोर्ट : बजट की राशि खर्च नहीं कर पाई बिहार सरकार

 Special News Coverage |  19 March 2016 12:59 PM GMT

सीएजी रिपोर्ट : बजट की राशि खर्च नहीं कर पाई बिहार सरकार

पटना: बिहार विधानसभा में शुक्रवार को नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) की वित्तवर्ष 2014-15 की रिपोर्ट रखी गई। सीएजी रिपोर्ट में सरकार के वित्तीय प्रबंधन को विफल बताया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है की, बिहार सरकार के वर्ष 2014-15 के कुल बजट 140022.59 करोड़ रुपये में से 27334.02 करोड़ रुपये वापस कर दिए गए। जिससे कई विभागों के विकास कार्य प्रभावित हुए ।

बिहार विधानसभा में सीएजी रिपोर्ट के पेश होने के बाद लेखाकार परीक्षक पी़ क़े सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि

निर्धारित बजट से भी कम हुआ खर्च, 2014-15 के कुल बजट 140022.59 करोड़ रुपये में से सरकार ने 43925.80 करोड़ रुपये की बचत की है, जो सरकार के पूरे बजट का बड़ा हिस्सा है।

सीएजी रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार ने खर्च के अनुपात में बहुत ज्यादा बजट बना लिया था, जिस कारण यह स्थिति आई। ऐसे में कुल 27334.02 करोड़ रुपये वापस कर दिए गए, इसमें से 22740.73 करोड़ रुपये 31 मार्च, 2015 यानी वित्तवर्ष के आखिरी दिन वापस किए गए।

उस रिपोर्ट में कहा गया है कि इस वित्तवर्ष में राजकोषीय घाटा 11178.50 करोड़ रुपये रहा जो पिछले वर्ष से 34 प्रतिशत ज्यादा था। जबकि सरकार को करीब डेढ़ हज़ार करोड़ के राजस्व नुकसान भी उठाना पड़ा है। तो दूसरी तरफ सरकार के 5 हज़ार करोड़ का डीसी बिल पेंडिंग होने का मामला अभी तक नहीं सुलझा है। रिपोर्ट में विभाग द्वारा खर्च के बिल नहीं दिए जाने की भी बात कहीं है।

लेखाकार परीक्षक ने बताया कि बिहार में पुल निर्माण में भी विलंब हो रहा है। उन्होंने कहा कि पांच वर्ष में 1252 पुलों के निर्माण का लक्ष्य था, जबकि मात्र 821 पुलों का ही निर्माण समय पर हुआ। 155 पुलों के निर्माण में एक से लकर 84 महीने तक का विलंब हो रहा है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it