Top
Home > Archived > दादरी हत्याकांड : अखलाख ने अपने हिंदू दोस्त को की थी अंतिम कॉल

दादरी हत्याकांड : अखलाख ने अपने हिंदू दोस्त को की थी अंतिम कॉल

 Special News Coverage |  5 Oct 2015 7:24 AM GMT

dadri Akhlaq

दादरी (नोएडा) : यूपी के दादरी के बिसाहड़ा गांव में गोमांस रखने व खाने की अफवाह के बाद हिंसक भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार डाले गए मोहम्मद अखलाख ने मदद के लिए एक हिंदू को ही आखिरी फोन कॉल किया था। अखलाख ने खुद को बचाने के लिए अपने बचपन के हिंदू दोस्त मनोज सिसोदिया को कॉल कर मदद मांगी थी। हालांकि, जब तक पुलिस को सूचना देकर मनोज अखलाख के घर पहुंचते तब तक वहां सबकुछ खत्म हो चुका था। अखलाख के फोन करने के 15 मिनट बाद ही मनोज अपने दोस्त अखलाख के घर पहुंचे थे।


पुलिस के अनुसार, अखलाख के मोबाइल से आखिरी कॉल मनोज सिसोदिया को किया गया था, जो गांव में ही किराना दुकान चलाते हैं और उनका घर इखलाक के घर से तकरीबन 500 मीटर की दूरी पर है।

एक अंग्रेजी अखबार ने मनोज सिसोदिया से बातचीत के आधार पर बताया है कि वह अपने दोस्त की अचानक इस तरह हुई मौत के कारण सदमे में है। मनोज के अनुसार, उनके गांव में इससे पहले कभी भी सांप्रदायिक घटना नहीं हुई।

घटना के दिन को याद करते हुए मनोज बताते हैं, 'गांव के हिसाब से यह देर रात की बात थी और मैं व घर के सभी लोग सोने की तैयारी कर रहे थे। अचानक मेरे मोबाइल पर अखलाख के नाम से कॉल आई। उसने मुझसे कहा मनोज भाई हम खतरे में हैं। किसी तरह पुलिस को फोन करके हमारी मदद करो। ये उसके आखिरी शब्द थे, जो उसने मुझसे कहे थे।'



style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">




मनोज ने बताया, 'मैंने पुलिस को कॉल करके बताया कि मेरे दोस्त व परिवार की जिंदगी खतरे में है। पुलिस को फोन करने के बाद मैं सीधा अखलाख के घर की तरफ भागा। लगभग 15 मिनट बाद पुलिस भी आ गई, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। काश मैं थोड़ी जल्दी पहुंच जाता तो भीड़ को शांत कर पाता और शायद मेरे दोस्त की जान बच पाती। यह गनीमत रही कि हम अखलाख के 21 वर्षीय बेटे दानिश को बचाने में कामयाब रहे वर्ना ना जाने स्थिति क्या होती?'

सिसोदिया बताते हैं, 'मैंने दानिश को अस्पताल तो पहुंचाया था लेकिन अंदर से काफी डरा हुआ था। मुझे इस बात का डर था कि कहीं भीड़ मुझे भी निशाना न बना ले। अखलाख के साथ उसके घर पर मैंने कई दफा खाना खाया है।'

href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it