Home > Archived > बिहार में छाया अंधेरा, केंद्र ने बिजली सप्लाई में की कटौती

बिहार में छाया अंधेरा, केंद्र ने बिजली सप्लाई में की कटौती

 Special News Coverage |  28 April 2016 8:11 AM GMT

बिहार में छाया अंधेरा, केंद्र ने बिजली सप्लाई में की कटौती

पटना: पूरे देश में जल संकट गहराने के साथ उसका असर बिहार की बिजली उत्पादन पर भी पड़ रहा है। राज्य में बिजली संकट गहराने के संकेत मिल रहे हैं। पानी की कमी की वजह से फरक्का बिजली घर और तकनीकी खराबी की वजह से बाढ़ और कांटी बिजली घर से उत्पादन बंद हो गया है। राजधानी पटना में हर आधे घंटे में बिजली जा रही है। इन बिजली घरों में उत्पादन ठप्प होने से सप्लाई पर सीधा असर पड़ा है।

जानकारी के मुताबिक बिहार में बिजलीघरों से उत्पादन ठप्प होने के बाद उधर केंद्रीय सेक्टर से बिहार को मिलने वाली बिजली की कटौती कर दी गयी है। बिजली संकट का असर ग्रामीण क्षेत्रों में साफ देखा जा रहा है।जरूरत से काफी कम बिजली की सप्लाई की जा रही है। सप्लाई कम होने शहरों में 6 घंटे और गांवों में 10 से 12 घंटे बिजली की कटौती की जा रही है।


बिजली के मांग की बात करें तो सूबे को चार हजार मेगावाट बिजली की जरूरीत है। वहीं आपूर्ति घटकर 1800 मेगावाट तक पहुंच गयी है। बिजली विभाग के मुताबिक केंद्र से 1100 मेगावाट कम बिजली मिल रही है। इधर बिहार के केंद्रों से बिजली सप्लाई बाधित होने से 1110 मेगावाट बिजली का उत्पादन कम हो गया है। फरक्का बिजली की चार यूनिटें ठप होने से राज्य को 500 मेगावाट, कांटी बिजलीघर से 110 मेगावाट और बाढ़ बिजलीघर से 500 मेगावाट बिजली नहीं मिल रही है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top