Top
Home > Archived > उद्योगों के हित में न होने वाले कानून को समाप्त होना चाहिए: डा. हर्ष वर्धन

उद्योगों के हित में न होने वाले कानून को समाप्त होना चाहिए: डा. हर्ष वर्धन

 Special News Coverage |  31 Jan 2016 11:17 AM GMT

dr harshwardhan
सहारनपुर दिनेश मोर्य
भारत सरकार के विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं भू विज्ञान केन्द्रीय मंत्री डा. हर्ष वर्धन ने कहा कि यदि सहारनपुर जनपद में किसी भावी कार्य हेतु कोई ऐसा कानून है जो उद्योगों के हित में नहीं होता तो उसको खत्म होना चाहिए।


केन्द्रीय मंत्री डा. वर्धन इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन सहारनपुर चैप्टर कार्यालय पर अपने सम्मान में आयोजित अभिनंदन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि भारत सरकार द्वारा स्टार्ट अप के नाम से एक योजना चलाई हुई है यदि किसी नये उद्यमी को अपने उत्पाद की रिसर्च की आवश्यकता होती है तो उसे फाईनेंस का सहयोग इस योजना के तहत दिया जाता है। इस दौरान उद्यमियों ने केन्द्रीय मंत्री को समस्याओं से भी अवगत कराया, जिस पर उन्होंने सहारनपुर के उद्यमियों की समस्याओं को सरकार के समक्ष रखने का वायदा किया।



dr harshwardhan1
सीनियर सिटीजन ने केन्द्रीय मंत्री को दिया ज्ञापन

सीनियर सिटीजन वैलफेयर सोसायटी के पदाधिकारी सर्किट हाउस केन्द्रीय मंत्री डा0हर्ष वर्धन से मिले और उन्हे व्यापारी समस्याओं का ज्ञापन सौंप कर निस्तारण की मांग की।


केन्द्रीय मंत्री को सौंपे गये ज्ञापन में सोसायटी द्वारा मंाग की गयी कि वरिष्ठ नागरिकों के लिये 80 डी सैक्शन मे 30 हजार तक की छूट का प्रावधान होना चाहिये। ताकि वह अधिकतम कवर का बीमा करा सके। साथ ही सरकारी तथा गैर सरकारी एम्बुलेंस सेवा की रियायती करें। वरिष्ठ नागरिकों को उपलब्ध करायी जाये। ज्ञापन में मांग की गयी कि प्रत्येक नगरस्तर पर जैनेरिक दवाओं के मेडिकल स्टोर नगरके प्रमुख स्थलों पर खुलवाने की व्यवस्था की जाये। व आगामी बजट में वरिष्ठ नागरिकों के लिये आयकर छृट की सीमा 5 लाख की जाये।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it