Home > Archived > पंजाब यूनिवर्सिटी में फिर से पढ़ाते नजर आएंगे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

पंजाब यूनिवर्सिटी में फिर से पढ़ाते नजर आएंगे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

 Special News Coverage |  8 April 2016 11:33 AM GMT

पंजाब यूनिवर्सिटी में फिर से पढ़ाते नजर आएंगे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

चंडीगढ़ : पूर्व पीएम मनमोहन सिंह एक बार फिर से अपने पुराने प्रोफेशन में वापस लौट रहे है। जल्द ही वो अपनी पुरानी यूनिवर्सिटी में पढ़ाते नजर आएंगे, जहां से उन्होने खुद पढ़ाई की थी। चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी से सिंह ने बीए, एमए की पढ़ाई के बाद यहीं इकोनॉमिक्स के लेक्चरर और फिर प्रोफेसर बने थे।

पूर्व प्रधानमंत्री एवं जाने-माने अर्थशास्त्री डॉ. मनमोहन सिंह पंजाब यूनिवर्सिटी में फिर से पढ़ाने के लिए आ रहे हैं। वो यहां जवाहरलाल नेहरू चेयर के प्रमुख होंगे। कुलपति प्रो अरुण कुमार ग्रोवर ने इस बात की पुष्टि की है। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने पंजाब यूनिवर्सिटी में जवाहर लाल नेहरू चेयर के प्रमुख बनने का प्रस्ताव मंजूर कर लिया है। जिसमें उनसे लंबे समय से खाली पड़े चेयर प्रोफेसर का पद संभालने का आग्रह किया गया था। कुलपति ने कहा की ये गर्व की बात है कि पूर्व प्रधानमंत्री ने यह प्रस्ताव स्वीकार किया।


बताया जा रहा है कि पद संभालने के बाद कैंपस में डॉ. मनमोहन सिंह फैकल्टी एवं विद्यार्थियों से तो रू-ब-रू होंगे ही, साथ ही यदि वो चाहेंगे तो अपने विशेष क्षेत्र में शोध भी कर सकेंगे। गौरतलब है कि डॉ. मनमोहन सिंह ने पंजाब यूनिवर्सिटी से ही स्नातक और मास्टर की डिग्री ली थी। बाद में वो अर्थशास्त्र विभाग के प्रोफेसर और यूनिवर्सिटी के करोसपोंडेंट विभाग के चेयरमैन भी रहे।

आपको बता दे की 50 साल पहले पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने इसी यनिवर्सिटी में छात्रों को आखिरी बार पढ़ाया था। 1954 में पंजाब यूनीवर्सिटी से अर्थशास्त्र में एमए करने के बाद डॉ. सिंह 1957 में यहीं अर्थशास्त्र के सीनियर लेक्चरर तैनात हुए। फिर 1966 में संयुक्त राष्ट्र में आर्थिक मामलों के अधिकारी नियुक्त होने तक वो यहां रहे। अब वो फिर से छात्रों को पढ़ाने के लिए तैयार हैं। इस ख़बर से छात्रों में ख़ास उत्साह नजर आ रहा है। एमए के छात्र सौरभ कहते हैं कि इकोनॉमिक्स में उनका जो अनुभव रहा है और 1991 के संकट में उनका ज्ञान काम आया था और फिर 10 साल वो प्रधानमंत्री रह चुके है, मुझे लगता है मैं उनसे काफ़ी कुछ सीख सकता हूं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top