Top
Home > Archived > DGP बिदाईः 32 साल का अनुभव बहुत अच्छा रहा - जगमोहन यादव

DGP बिदाईः 32 साल का अनुभव बहुत अच्छा रहा - जगमोहन यादव

 Special News Coverage |  31 Dec 2015 6:49 AM GMT

dgp jagmohan

लखनऊः यूपी के पुलिस महानिदेशकजगमोहन यादव को रैतिक परेड में लखनऊ के एसएसपी राजेश पांडे ने सलामी दी। एसएसपी राजेश पांडे ने रैतिक परेड की अगुवाई करके प्रदेश के डीजीपी को विदाई दी। डीजीपी का आज कार्यकाल पूरा करके विदाई समारोह है।


पुलिस महानिदेशक जगमोहन यादव् ने कहा कि वे विभाग से मिले सम्मान के लिए बहुत धन्यवाद देते है। इतने कम समय में अच्छी परेड के लिए अफसरो को धन्यवाद देता हूँ। नौकरी के आखिरी दिन इतना सम्मान मिलेगा सोचा भी नहीं था। लोगों के द्वारा मिले सम्मान,स्नेह के लिए धन्यवाद देता हूँ।


डीजीपी ने कहा कि में प्रदेश के मुख्यमंत्री का भी आभार व्यक्त करता हूँ कि सरकार ने हमेशा हमें काम करने का पूरा मौका दिया और पंचायत चुनाव जैसे मौके पर सरकार सहयोग मिला उसका आभारी हूँ।

डीजीपी ने कहा कि पुलिस मे लीडरशिप चैलेंजिंग का काम है। थाने में लीडरशिप और डीजीपी का पद दोनो चुनौतीपूर्ण है। मेरे पर्सनल,प्रोफेशनल जीवन में कई बार मुश्किले आई है पर में कभी निराश नहीं हुआ। 32 साल का अनुभव बहुत अच्छा रहा,शांत मन से संतुष्ट होकर रिटायर हो रहा हूं।

डीजीपी ने कहा कि मुझे पता था मेरे पास काम का कितना टाइम है। सूक्ष्म कार्यकाल के दौरान पंचायत चुनाव चुनौती मिली, चुनाव मे कानून व्यवस्था की भी चुनौती थी। डीजीपी हेडक्वाटर के अफसरो ने दिनरात काम किया, जिलो की फोर्स दिन रात सतर्क रही, यूपी पुलिस सही नेतृत्व में कमाल कर सकती है। बशर्ते उसे काम करने की खुली मोहलत मिले।

डीजीपी ने कहा कि यूपी पुलिस की काबिलियत पर शक नही किया जा सकता है। जहा फेलियर मिला वो अफसरो का फेलियर था। अगर लीडर बताए क्या करना है तो दिक्कत नही होगी। आज में फिर एक बार सभी का संतुष्ट मन से धन्यबाद करता हूँ।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it