Top
Home > Archived > ISIS के बहाने निर्दोष लोंगों की गिरफ्तारी नहीं रुकी तो होगा आन्दोलन - उलेमा काउंसिल

ISIS के बहाने निर्दोष लोंगों की गिरफ्तारी नहीं रुकी तो होगा आन्दोलन - उलेमा काउंसिल

 Special News Coverage |  28 Jan 2016 9:24 AM GMT

12607115_667775849992622_440797541_n

लखनऊ: राष्ट्रीय ओलमा कौंसिल ने आतंकवादी घटनाओं की निन्दा करते हुए ऐसी घटनाओं का कारण गुप्तचर एजेंसियों की असफलता करार दिया है। कौंसिल के अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि उनका संगठन आतंकवादी घटनाओं और इसके साथ एक वर्ग को जोडने की निन्दा करता है। उनका कहना था कि आतंकवाद का कोई मजहब नहीं है इसलिए ऐसी घटनाओं के पीछे किसी खास धर्म को नहीं जोडा जाना चाहिए। ISIS के बहाने निर्दोष लोंगों की गिरफ्तारी नहीं रुकी तो होगा आन्दोलन।



उन्होंने आरोप लगाया कि आतंकवादी घटनाओं में मुस्लिम नौजवानों को मुख्य रुप से आरोपी बनाया जाता है। कई नौजवान वर्षों जेल में रहने के बाद अदालत से छूट गए। उन्होंने दावा किया कि जस्टिस आर डी निमेष आयोग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 10-15 साल सजा काटने के बाद बाइज्जत बरी होने वाले युवकों की संख्या 90 प्रतिशत से अधिक है।

उन्होंने कहा कि हाल ही में अलकायदा और आईएसआईएस से सम्बन्ध रखने के आरोप में 29 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। उन्होंने कहा कि गिरफ्तारियां पुख्ता सबूत के आधार पर की जानी चाहिए। शक के आधार पर गिरफ्तार किया जाना गलत है। उन्होंने चेतावनी दी कि निर्दोष लोगों की गिरफ्तारी नहीं रुकी तो बडा आन्दोलन खड़ा किया जाएगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it