Home > Archived > कन्हैया को खुली चेतावनी एक 15 साल की लड़की ने दी, दम है तो दें जबाब!

कन्हैया को खुली चेतावनी एक 15 साल की लड़की ने दी, दम है तो दें जबाब!

 Special News Coverage |  6 March 2016 7:55 AM GMT

kanhaiya

लुधियाना
जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने वाले कन्हैया कुमार को भले ही कोर्ट से जमानत मिल गई हो, लेकिन उस पर बहस अभी जारी है। कोई कन्हैया को सत्याग्रही बता रहा है तो कोई देशद्रोही। वहीं इस सबके बीच एक 15 साल की लड़की ने कन्हैया को खुली चेतावनी दी है। 15 साल की जाह्नवी बहल ने कन्हैया कुमार को ओपन डीबेट के लिए चैलेंज किया है। जाह्नवी बहल ने कन्हैया कुमार को अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब समझाने की बात कही है।


मोदी को देश ने दिया जनाधार
यही नहीं जाह्नवी ने कन्हैया को नसीहत तक दे दी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश ने जनाधार दिया है। इसलिए कन्हैया को देश के प्रधानमंत्री के बारे में कुछ भी बोलने और उन्हें गाली देने से पहले एक बार सोचना जरूर चाहिए। आपको बता दें कि जाह्नवी बहल डीएवी पब्लिक स्कूल, भाई रणधीर सिंह नागर की छात्रा हैं। वह एक एनजीओ रक्षा ज्योति फाउंडेशन की एक्टिव सदस्य भी हैं। उसे गणतन्त्र दिवस पर स्‍वच्छ भारत अभियान के कई प्रोजेक्ट्स में अहम योगदान के लिए सम्मानित भी किया गया है।

संविधान बोलने की आज़ादी देता है
जाह्नवी बहल ने कहा कि संविधान हमें बोलने की आजादी देता है लेकिन इसका मतलब ये बिल्‍कुल भी नहीं है कि हम अपनी सीमाएं पार करने लगें। जाह्नवी ने आरोप लगाया कि कन्हैया कुमार और उनके साथियों ने राजनीतिक स्वार्थ के लिए ना‍गरिकों के मूल अधिकारों का गलत इस्तेमाल किया है। जाह्नवी ने कहा कि जेएनयू में घटित हुई घटना से भारत का नाम सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में खराब हुआ है।


आपको बता दें कि जाह्नवी बहल इससे पहले भी कई सार्वजनिक मुद्दों पर अपनी आवाज बुलंद कर चुकी हैं। अभी हाल ही में उन्‍होंने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर परोसे जा रहे पॉर्न मूवीज और एडल्ट कंटेट के खिलाफ एक याचिका दाखिल की है। वह अपनी स्‍कूल यूनीफॉर्म में ही कोर्ट तक पहुंच गई थी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top