Top
Home > Archived > केजरीवाल सरकार विज्ञापन बजट को आधा कर सकती है

केजरीवाल सरकार विज्ञापन बजट को आधा कर सकती है

 Special News Coverage |  21 March 2016 9:51 AM GMT

केजरीवाल सरकार विज्ञापन बजट को आधा कर सकती है

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा में आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार अगले वित्त वर्ष के लिए अपने विज्ञापन बजट को कम करके 200 करोड़ रुपये कर सकती है, जो पिछले साल के आवंटन का आधे से भी कम होगा। पिछले साल विज्ञापन बजट को लेकर विपक्ष ने आम आदमी पार्टी सरकार की काफी आलोचना की थी।

मुख्यमंत्री सचिवालय में एक अधिकारी ने कहा कि दिल्ली विधानसभा में 28 मार्च को अपने बजट भाषण में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया इस संबंध में घोषणा कर सकते हैं। आप सरकार ने 2015-16 के बजट में सूचना और प्रचार के लिए 526 करोड़ रुपए अलग रखे थे जिस पर भाजपा और कांग्रेस की ओर से तीखी प्रतिक्रिया आई थी।


केजरीवाल सरकार इसके तहत विज्ञापन के खर्च को एक समेकित मद के तहत लाने की कोशिश करेगी। अगर ऐसा हुआ तो इस बार का बजट पिछले साल के आवंटन का आधे से भी कम होगा। पिछले साल विज्ञापन बजट को लेकर विपक्ष ने 'आप' सरकार की काफी आलोचना की थी।

इसे भी पढ़े : CM फडणवीस ने दिग्विजय सिंह को भेजा कानूनी नोटिस

मुख्यमंत्री सचिवालय के एक अधिकारी ने बताया, ‘सरकार जन-जागरुकता और विज्ञापन बजट को पिछले साल की तुलना में करीब आधा कर देगी।’ उन्होंने आगे कहा, 28 मार्च को 2016-17 का बजट पेश करते समय उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सूचना और प्रचार के लिए बजट का जिक्र कर सकते हैं। उन्होंने ये भी बताया जा सकता है कि इसे पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए एक समेकित कोष के तहत क्यों रखा गया। अधिकारी ने कहा कि यह सभी विभागों के लिए समेकित धन हैं।

आप को बता दें कि 'आप' सरकार ने 2015-16 के बजट में सूचना और प्रचार के लिए 526 करोड़ रपये अलग रखे थे, जिस पर बीजेपी और कांग्रेस की ओर से तीखी प्रतिक्रिया आई थी।

इसे भी पढ़े : मैं आंबेडकर का भक्त हूं, बाबा साहेब को सिर्फ दलितों का मसीहा बोलकर अपमानित न करें : मोदी

इसे भी पढ़े : JNU विवाद में कूदे शशि थरूर, कन्हैया को बताया आज का ‘भगत सिंह’

Tags:    
Next Story
Share it