Home > Archived > बीते सप्ताह भर में देश के 102 गांवों में बिजली पहुंची

बीते सप्ताह भर में देश के 102 गांवों में बिजली पहुंची

 Special News Coverage |  26 April 2016 9:57 AM GMT

बीते सप्ताह भर में देश के 102 गांवों में बिजली पहुंची

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री द्वारा शुरु की गई दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना (डीडीयूजीजेवाई) के तहत पिछले एक सप्ताह के दौरान देश के 102 गांवों में बिजली पहुंचाई गई यानी उनका विद्युतीकरण किया गया। विद्युत मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। सरकार ने 1 मई 2018 तक 1,000 दिन में 18,452 बिजली से वंचित गांवों का अंधेरा दूर करने का लक्ष्य रखा है।

केंद्रीय विद्युत मंत्रालय ने सोमवार को यहां बताया कि 18 अप्रैल से 24 अप्रैल की अवधि के दौरान विद्युतीकृत किए गए गांवों में अरुणाचल प्रदेश के 23 गांव, असम के 32 गांव, झारखंड के 11 गांव, राजस्थान के 3 गांव, बिहार के 13 गांव, छत्तीसगढ़ के 2 गांव, ओडिशा के 6 गांव, मध्य प्रदेश के 7 गांव, मणिपुर के 2 गांव और उत्तर प्रदेश के 3 गांव शामिल हैं। इस तरह अब तक कुल

7,445 गांवों में बिजली पहुंचाई जा चुकी है।

बता दें केंद्रीय विद्युत मंत्रालय देश के हर गांव तक चौबीस घंटे बिजली आपूर्ति करने के सम्बन्ध में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। केंद्र सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युतीकरण के लिए दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना (डीडीयूजीजेवाई) शुरू की है। योजना का लक्ष्य देश के हर गांव का विद्युतीकरण और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली वितरण की बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराना है।

स्वतंत्रता दिवस को राष्ट्र के नाम अपने संदेश में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के संबोधन में भारत सरकार के इस फैसले के बारे में बताया गया था कि अगले 1000 दिनों में यानी 1 मई 2018 तक 18,452 गांवों में बिजली पहुंचाई जाएगी। इस परियोजना को अभियान के स्तर पर लिया गया है और विद्युतीकरण के लिए 12 महीनों का कार्यक्रम तैयार किया गया है और गांवों के विद्युतीकरण की प्रक्रिया को 12 चरणों में बांटा गया है जिसे समयबद्ध और देखरेख में पूरा किया जाएगा।

अभी तक 7,445 गांवों में बिजली पहुंचा दी गई है। बाकी के 10,563 गांवों में 444 गांव निर्जन हैं। 7,131 गांवों में ग्रिड के माध्‍यम से, भौगोलिक बाधाओं के कारण 3,020 गांवों में ऑफ-ग्रिड के माध्यम से और 412 गांवों में राज्‍य सरकारों द्वारा बिजली पहुंचाई जा रही है। अप्रैल 2015 से 14 अगस्‍त 2015 के दौरान कुल 1654 गांवों का विद्युतीकरण किया गया और भारत सरकार द्वारा अभियान की तरह इस परियोजना के लिए पहल करने के बाद 15 अगस्त 2015 से 24 अप्रैल 2016 तक 5,791 अतिरिक्त गांवों में बिजली पहुंचाई गई।

इसमें तेजी से प्रगति के लिए ग्राम विद्युत अभियान (जीवीए) के जरिये निगरानी की जा रही है। आरपीएम बैठक के दौरान मासिक प्रगति की समीक्षा, राज्‍य की कंपनियों के साथ मिलकर विद्युतिकरण हो पाए गांव की सूची को साझा करना और प्रगति में देरी के जिलों को चिन्हित करने जैसी विभिन्न कार्रवाई भी नियमित आधार पर की जा रही हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top