Top
Home > Archived > यूपी में चोरों ने नही बख्शा मोदी के सपनो की गाडी को!

यूपी में चोरों ने नही बख्शा मोदी के सपनो की गाडी को!

 Special News Coverage |  30 Jan 2016 12:39 PM GMT

यूपी में चोरों ने नही बख्शा मोदी के सपनो की गाडी को!

लेखक सुभाषचंद्र

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी इसे पीएम है जो देश को उत्तम से उत्तम सुविधा देने में लगे है। और इसी सन्दर्भ में बनारस से दिल्ली के लिए महामना एक्सप्रेस चलायी तो सभी तरह की आधुनिक सेवाओं से युक्त है।

मगर हुआ क्या चोरों ने मोदी के सपनों की ट्रैन में ही सेंध लगा दी, और पानी की टूटियां और टॉयलेट किट्स चुरा लिए। ये सपनो की ट्रैन मोदी जी की ही नही थी बल्कि लोगों को भी इसमें अपने सपने पूरे होते दिख सकते थे। एक आरामदेह सफ़र की शुरुआत हुई जिसकी मांग सैलून से हो रही थी। मांग को पीएम मोदी ने पूरा किया तो पहले ही फेरे में चोरों ने अपना हाथ साफ कर बता दिया की हमें नहीं चाहिए सुबिधा हमें तो विरोध करना है।


ऐसा प्रतीत हो रहा है मुझे कि ये कोई साजिश के तहत किया गया है। साजिश समझ सकते हैं किसकी हो सकती है। वो बहुत हैं जो नही चाहते कि मोदी कुछ कर पाये। बस फेल हो जाये मोदी इतना करो विरोध देश जाए भाड़ में जाय या हम। पर हमने तो सौगंध खाई है की तरक्की का विरोध करेंगे।

अभी तो खबरे आई नही है कि जो दूर दराज के इलाकों में टॉयलेट्स बनाये गए है। उनकी क्या हालत है। या सड़कों पर जो LED बल्ब लगाए जा रहे हैं वो कितने सलामत रहेंगे एक प्रश्नवाचक चिन्ह लगता है।

दिल्ली की साजिश तो आप देख ही रहे हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भाई जी जान लगा रहे है। बन्दा किसी तरह भी मोदी का स्वच्छता अभियान को मिटटी में मिलाना है। चाहे देश की छवि ही मिटटी में मिल जाये।

सवाल ये उठता है कि अगर महामना जैसी ट्रैन के ये हश्र किया गया है। तो क्या लोग सुविधाओं की सरकार से अपेक्षा करने का अधिकार रखते हैं। ऐसी घिनौनी हरकत करने वाले अगर रंगे हाथों पकडे जाएँ तो उनके हाथ काट देने चाहियें।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it