Home > Archived > मुंबई में डांस बार बिल को कैबिनेट की मंजूरी, ग्राहक नहीं फेंक सकेंगे नोट

मुंबई में डांस बार बिल को कैबिनेट की मंजूरी, ग्राहक नहीं फेंक सकेंगे नोट

 Special News Coverage |  11 April 2016 3:04 PM GMT

मुंबई में डांस बार बिल को कैबिनेट की मंजूरी, ग्राहक नहीं फेंक सकेंगे नोट

मुंबई: महाराष्ट्र कैबिनेट ने सोमवार को नए डांस बार बिल को मंजूरी दे दी। यह विधेयक मंगलवार को विधानसभा में पेश किया जा सकता है। इस विधेयक में बार डांसरों का उत्पीड़न रोकने के लिए कड़े प्रावधान किए गए हैं। इस बिल के पास होने के बाद बार में आने वाले ग्राहक डांस करने वाली बालाओं पर नोट नहीं फेंक पाएंंगे। डांस बार में लड़कियों को छूने अथवा उन पर पैसे लुटाने पर जेल की सजा हो सकती है। विधेयक में 50 हजार रुपए के भारी-भरकम जुर्माने का भी प्रावधान रखा गया है। जबकि गैर-कानूनी तरीके से डांस बार चलाने पर पकड़े जाने पर 25 लाख रुपए का जर्माना लग सकता है।


इस विधेयक को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है. डांस बार पर कानून बनाने के लिए बनाई गई उपसमिति के सभी सदस्यों ने आपसी सहमति से ऐसी नियमावली बनायी है। डांसरों पर पैसे उछालने पर रोक लग गई है। बिल के मुताबिक बार में डांस करने वाली डांस की उम्र भी २१साल से कम नहीं होनी चाहिए। मंच पर डांस के वक्त एक समय पर चार ही डांसर डांस कर सकती हैं। डांसर जहां डांस कर रही होगी ग्राहक उससे कम से कम पांच फीट दूर ही रहेगा। इसके साथ ही डांसर और बार के बाकी कर्मचारियों का पीएफ अकाउंट होना चाहिए। बार में डांस शाम 6 बजे से 11.30 बजे तक ही चलेगा।

नए विधेयक के मुताबिक किसी शिक्षण संस्थान के एक किलोमीटर के दायरे के अंदर किसी डांस बार के चलने की इजाजत नहीं होगी। साथ ही डांस बार में लड़कियों को 'तंग कपड़ों' में और 'अश्लील' नृत्य करने से मनाही होगी। डांस बार मालिकों को डांस बार के प्रवेशद्वार और बार के अंदर सीसीटीवी लगाना होगा और सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग 30 दिनों तक सुरक्षित रखनी होगी। डांसर का 'उत्पीड़न' होने पर डांस बार मालिक पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगेगा अथवा उसे तीन साल की सजा काटनी होगी।

गौर हो कि सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में डांस पर लगी रोक हटा दी थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री फड़णवीस ने 25 सदस्यों की एक समिति बनाई थी जिसने डांस बार को दोबारा शुरू किए जाने को लेकर अपने सुझाव दिए।

Tags:    
Share it
Top