Top
Home > Archived > उज्जैन में मंदिर के नीचे मिली रहस्यमय नदी!

उज्जैन में मंदिर के नीचे मिली रहस्यमय नदी!

 Special News Coverage |  26 March 2016 6:46 AM GMT

उज्जैन में मंदिर के नीचे मिली रहस्यमय नदी!
महाकाल की नगरी उज्जैन में क्षिप्रा नदी के किनारे यागेश्वर महादेव मंदिर के नीचे जमीन से एक बड़ी जलधारा बह रही है। कहा जाता सफाई के दौरान एक मोटी जलधारा बहती हुई मिली है। इस जलधारा के पानी ने श्रद्धालुओं को भी अचंभे में डाल रखा है। यह जलधारा काफी साफ है। यह नदी वहां पर गुप्त गंगा के नाम से जानी जा रही है।

लोगों का कहना है कि यह काफी समय पहले लुप्त हो गई थी। जिससे इस रहस्‍य को लेकर लोग कई अलग-अलग तरह से बाते करते हैं। हालांकि अभी इसे इसका पूर्ण नाम नहीं दिया गया है। इस संबंध में उज्जैन यूनिवर्सिटी के आर्कियोलाजी डिपार्टमेंट ने जांच करने की तैयारी की है। वह अब यहां इसके पानी की जांच करके इसकी हकीकत का पता लगा रही है।


विक्रम यूनिवर्सिटी उज्जैन के हिस्ट्री डिपार्टमेंट के एचओडी प्रो. आर के अहिरवार का कहना है कि प्रयागेश्वर महादेव मंदिर को स्कंद पुराण के अवंतिका खंड में गंगा यमुना के संगम के रूप में जाना जाता है। ऐसे में यह जलधारा गुप्‍त गंगा हो सकती है। गौरतलब है कि महाकाल की नगरी उज्जैन में दुनिया भर से लोग दर्शन करने आते हैं। यहां पर हर दिन भक्‍तों की लंबी-लंबी कतारें लगती हैं। सबसे खास बात तो यह है कि उज्‍जैन में महाकालेश्वर को लेकर मान्यता है कि जो भी मनुष्य प्रयागेश्वर महोदव के दर्शन-पूजन करता है। उसके सभी पापों का नाश होता है और मोक्ष को प्राप्त करता है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it