Top
Home > Archived > एशिया की सबसे बड़ी दूरबीन, आज बेल्जियम से मोदी करेंगे एक्टीवेट

एशिया की सबसे बड़ी दूरबीन, आज बेल्जियम से मोदी करेंगे एक्टीवेट

 Special News Coverage |  30 March 2016 7:25 AM GMT

एशिया की सबसे बड़ी दूरबीन, आज बेल्जियम से मोदी करेंगे एक्टीवेट
उत्तराखंड : नैनीताल में लगी एशिया की सबसे बड़ी दूरबीन, 30 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेल्जियम से बटन दबाकर एक्टीवेट करेंगे। दूरदर्शन और राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) की टीम भी देवस्थल पहुंच गई है। मंगलवार को कुछ और वैज्ञानिक व इंजीनियर देवस्थल पहुंचने वाले हैं।

सोमवार को कंप्यूटर इंजीनियर संजीव साहू के साथ देवस्थल पहुंचे वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. बृजेश कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री जिस वक्त दूरबीन को एक्टीवेट करेंगे, उस वक्त के कार्यक्रम का देवस्थल में दूरदर्शन के सहयोग से पांच मिनट का लाइव प्रसारण होगा।


गौरतलब है कि कि 2,450 मीटर की ऊंचाई पर स्थित देवस्थल में वर्ष 2007 में इस दूरबीन को लगाने का काम शुरू हुआ था। 3.6 मीटर व्यास की यह दूरबीन 360 डिग्री के कोण पर घूमकर किसी भी बिंदु पर स्थिर होकर आकाश का विस्तृत अध्ययन करने के लिए तैयार है।

इस दूरबीन की स्थापना में जर्मनी, रूस और बेल्जियम का बहुत बड़ा योगदान रहा है। इसके लेंस को तैयार करने में बेल्जियम के वैज्ञानिकों की अहम भूमिका रही है। दूरबीन में सात प्रतिशत हिस्सेदारी बेल्जियम का भी है। कुमार ने बताया कि यह दूरबीन धुंधले नजर आने वाले तारों, नई आकाश गंगाओं और दूरस्थ तारों के समूह के अध्ययन में विशेष रूप से महत्वपूर्ण साबित होगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it