Top
Breaking News
Home > Archived > पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवसिर्टी ने लगाया गुरदासपुर में किसान मेला

पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवसिर्टी ने लगाया गुरदासपुर में किसान मेला

 Special News Coverage |  15 March 2016 1:40 PM GMT



गुरदासपुर दीपक
पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवसिर्टी की ओर से गुरदासपुर में स्थित क्षेत्रीय खोज केंद्र में किसान मेला लगाया गया। इस किसान मेले में यूनिवसिर्टी के प्रंबंधकीय बोर्ड के सदस्य हरदेव सिंह रियाड़ विशेष तौर पर उपस्थित हुए। मेले का उद्घाटन यूनिवसिर्टी के उप चांस्लर डा. बलदेव सिंह ढिल्लों ने किया। इस मौके पर मुख्य खेतीबाड़ी अधिकारी डा. लखविंदर सिंह हुंदल, जिला परिषद मैंबर सुखजिंदर सिंह लंगाह व स्टेशन के पूर्व निर्देशक डा. परमजीत सिंह काहलों मौजूद थे। इस मौके पर संबोधन करते हुए डा. ढिल्लों ने कहा कि हमें मशीनीकरण और मंडीकरण का लाभ लेने के लिए एकजुट होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कुदरती ोत का सहम के साथ प्रयोग करना चाहिए और खेती विभिन्नता की ओर जाना चाहिए। इस प्रयास से हम अपने कुदरती ोत का अच्छा रखरखाव करने में कामयाब होंगे। उन्होंने कहा कि हमें सहायक धंधों की ओर ध्यान देना चाहिए, इससे खेती को लाभदायक धंधे के तौर पर विकसित कर सकते है। डा. ढिल्लों ने आगे बोलते हुए कहा कि हमें मुनाफे की ओर देखना चाहिए न की झाड़ की तरफ। खाद का प्रयोग करने के लिए मिट्टी की परख करवाना बेहद जरुरी है। उन्होंने आगे कहा कि खेती को तकनीकी खेती बनाने के लिए अधिक से अधिक यूनिवसिर्टी की सिफारिशों के साथ जुडऩा चाहिए।



इस मौके पर यूनिवसिर्टी के निर्देशक पसार शिक्षा डा. रजिंदर सिंह सिधू ने कहा कि किसान मेले ज्ञान के भंडार है। किसान मेंलों में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए। उन्होंने बताया कि सहायक धंधें सिखलाई प्रदान करने के लिए यूनिवसिर्टी की ओर से विभिन्न जिलों में कृषि विज्ञान केंद्र स्थापित किये जा रहे है।


यूनिवसिर्टी के निर्देशक खोज डा. बलविंदर सिंह ने गुरदासपुर स्टेशन की महत्ता और डाले जा रहे योगदान पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि यूनिवसिर्टी का यह खोज केंद्र 100 वर्ष पुराना है। उन्होंने यूनिवसिर्टी की ओर से गत दिवस सिफारिश की गई किस्मों की जानकारी भी दी।डा. हुंदल ने खेतीबाड़ी विभाग की ओर से चलाई जा रही स्कीमों के बारे में जानकारी दी। मेले के दौरान मासिक रसाले प्राप्त करने के लिए विशेष छूट प्रदान की जा रही है। इस मौके पर मुख्य मेहमान की ओर से विशेष मेहमान को यादगान चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर डा. तेजिंद्र सिंह रियाड़ खेतीबाड़ी माहिर, महिंद्रपाल सिंह कौंटा चेयरमैन शूगर मिल पनियाड़, कुलदीप सिंह डिप्टी डायरेक्टर बागवानी, डा. परमजीत कौर घुम्मन, स्वर्ण सिंह सीनियर मछली पालन अधिकारी, डा. बिक्रमजीत सिंह, परमजीत सिंह, लाली चीमा आदि समेत विभिन्न विभागों के प्रमुख समेत बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it