Top
Home > Archived > कांग्रेस की बैठक में मची भगदड़, चले लात-घूंसे

कांग्रेस की बैठक में मची भगदड़, चले लात-घूंसे

 Special News Coverage |  14 Oct 2015 3:05 PM GMT

congress dausa

दौसा : विपक्ष में रहते भी राजस्थान कांग्रेस के आज-कल अच्छे दिन नहीं चल रहे हैं। बुधवार को दौसा जिले के कार्यकर्ताओं की बैठक में जमकर हंगामा हुआ। लात-घूंसे चले और भगदड़ जैसी स्थिति पैदा हो गई। दरअसल बैठक शुरू होने के बाद तीन पदाधिकारी भाषण दे चुके थे। संचालक ने शहर ब्लाक अध्यक्ष महेश बादल को बोलने के लिए आमंत्रित किया।

ज्यों ही बादल ने भाषण शुरू किया, कार्यकर्ताओं ने पार्टी से बगावत करने के मामले में बादल पर कार्रवाई नहीं करने पर शोर शराबा कर दिया। बादल को धक्के मारकर बाहर निकाल दिया। इस पर डीसीसी मैंबर विश्वनाथ सैनी बोलने लगे, तो कार्यकर्ताओं ने सैनी की लात घूंसों से जमकर धुनाई कर दी। मारपीट में सैनी का कुर्ता फट गया तथा मुंह से खून निकल आया। बैठक में काफी देर तक हंगामा होता रहा। वरिष्ठ पदाधिकारियों ने बीच बचाव कर मुश्किल से कार्यकर्ताओं को शांत किया। कुछ लोग सैनी को बाहर ले गए। शोर शराबा व हंगामा बढ़ने पर बैठक खत्म कर दी गई।


प्रदेश कांग्रेस के तीन महासचिव, एक सचिव व पूर्व मुख्य सचेतक की मौजूदगी में कार्यकर्ताओं ने सभी हदें पार कर दीं। न केवल सैनी को जमकर पीटा, बल्कि उन्हें धक्के भी दिए गए। सैनी की इतनी पिटाई की गई कि उनके मुंह से खून निकलने लगे। इस मामले में पूर्व मंत्री मुरालील मीणा सहित आठ कांग्रेसियों के खिलाफ कोतवाली थाने में रिपोर्ट भी दर्ज करा दी गई है।




style="display:inline-block;width:336px;height:280px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="4376161085">



कार्यकर्ताओं का टूटा है मनोबल
शहर ब्लाक अध्यक्ष महेश बादल के भाषण शुरू करते ही हंगामा हो गया। जिला महामंत्री घनश्याम शर्मा, हुकम सिंह, राधामोहन शर्मा ने कहा, अनुशासन समिति द्वारा निकाय चुनाव में पार्टी से बगावत करने वालों की सूची देने के बाद भी बागियों पर कार्रवाई नहीं की गई है। इससे कार्यकर्ताओं का मनोबल टूट रहा है। उनके खिलाफ प्रस्ताव लेने के बावजूद निष्कासन नहीं होने से कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है। कई कार्यकर्ताओं ने तो यहां तक कह दिया कि संगठन बागियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करेगा, तो हम करेंगे। बैठक में प्रदेश सचिव आदित्य शर्मा, पूर्व जिला प्रमुख अजीत सिंह, पूर्व विधायक भूधरमल वर्मा, पूर्व प्रधान रामप्रताप मीणा, गजाधर शर्मा, जिला उपाध्यक्ष अंबिकेश्वर शर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष मनोहर लाल गुप्ता, महवा ब्लाक अध्यक्ष ओमप्रकाश, रामस्वरूप, सिकराय ब्लाक अध्यक्ष लटूर मल सैनी, रामसहाय, बांदीकुई ब्लाक अध्यक्ष पूरणमल सहित अनेक कार्यकर्ता थे।

क्या कहा प्रभारी महासचिव
प्रदेश कांग्रेस महासचिव व जिला प्रभारी विजेंद्र सिंह ने कहा कि बैठक के दौरान जो कुछ भी हुआ है, वह निंदनीय है। उन्होंने कहा कि पार्टी के मंच पर सभी को अपनी बात रखने का हक है, लेकिन मारपीट करना अशोभनीय है। उन्होंने कहा कि इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश महासचिव व जिलाध्यक्ष जी.आर. खटाणा, प्रदेश महासचिव व पूर्व मंत्री मुरारी लाल मीणा व पूर्व मुख्य सचेतक हरिसिंह महवा ने भी घटना की निंदा करते हुए दोषियों पर कार्रवाई की बात कही।

href="https://www.facebook.com/specialcoveragenews" target="_blank">Facebook पर लाइक करें
Twitter पर फॉलो करें
एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें




style="display:inline-block;width:300px;height:600px"
data-ad-client="ca-pub-6190350017523018"
data-ad-slot="8013496687">


स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it