Breaking News
Home > Archived > चूहे ने काटी उंगली, ट्वीट के 11 घंटे बाद हुई प्रभु कृपा

चूहे ने काटी उंगली, ट्वीट के 11 घंटे बाद हुई 'प्रभु कृपा'

 Special News Coverage |  17 March 2016 1:18 PM GMT

चूहे ने काटी उंगली, ट्वीट के 11 घंटे बाद हुई 'प्रभु कृपा'
मंगलौर: घटना बीते सोमवार रात की है जब टीके जी नायर मैंगलोर एक्सप्रेस से सफर कर रहे थे,इस दौरान उन्हें एक चूहे ने काट लिया। 11 घंटे बाद जाकर सही इलाज मिला। सही इलाज न मिलने तक लगातार उनके पैर से खून बहता रहा। उन्होंने बताया कि इलाज के लिए उन्होंने रेल मंत्री सुरेश प्रभु को ट्वीट करके जानकारी दी जिस पर उन्होंने जल्द इलाज की बात कही लेकिन उन्हें कोई इलाज नहीं मिल सका।
नायर ने बताया कि वे कोट्टायम से मंगलौर तक की यात्रा कर रहे थे। आधी रात के करीब उन्हें अपने एसी थ्री टीयर कंपार्टमेंट में झटका लगा। जब मैं जगा तो मैंने देखा कि वहां से एक चूहा जा रहा था। सारे यात्रियों के सोने की वजह से मैं वहां मौजूद एसी मैकेनिक के पास गया,जिसने टीटीई को इसके बार में बताया।


टीटीई ने कई फोन किए और फिर बताया कि एर्नाकुलम जंक्शन पर मेडिकल टीम मेरी जांच करेगी लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। उनसे कहा गया कि त्रिशूर में एक डॉक्टर आकर जांच करेंगे। लेकिन वहां भी कुछ नहीं हुआ। फिर टीटीई का अधिकार क्षेत्र खत्म होते ही वो बिना कुछ कहे सुने वहां से चला गया।

अगले दिन सुबह ट्रेन जह कुन्नूर पहुंची तो उन्होंने भी सिर्फ जख्म एंटी सेप्टिक के साफ कर दिए लेकिन इंजेक्शन के लिए कहा कि उनके पास कोई स्टाफ नहीं है। आखिर में जब ट्रेन मंगलौर पहुंची तो मुझे इंजेक्शन लगाया गया और दवाइयां दी गई। 64 वर्षीय नायर ने कहा कि वो इस के लिए उपभोक्ता फोरम जा सकते हैं। गौरतलब है कि बीती फरवरी में रेलवे ने मुंबई - एर्नाकुलम दूरंतो एक्‍सप्रेस के एसी कोच में कोट्टायम के यात्री को चूहे काटने के बाद 13 हजार रुपए मुआवजा दिया थे।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top