Home > Archived > केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने कहा, कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए लिंग जांच होनी चाहिए

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने कहा, कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए लिंग जांच होनी चाहिए

 Special News Coverage |  2 Feb 2016 7:09 AM GMT

Maneka Gandhi


जयपुर : भ्रूण हत्‍या को रोकने के लिए केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने गर्भ में पल रहे बच्चे के लिंग परीक्षण का सुझाव दिया है। उनका कहना है कि लिंग की जांच से गर्भ में पल रहे बच्चे की सही ढंग से निगरानी की जा सकेगी।

जानकारी के अनुसार, केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि लिंग जांच को अनिवार्य कर देना चाहिए ताकि कन्या भ्रूण वाली गर्भवती महिला का ध्यान रखा जा सके और इस तरह कन्या भ्रूण हत्या रोकी जा सकेगी। हालांकि उन्होंने कहा कि यह उनके निजी विचार है और इस पर चर्चा की जानी चाहिए।


उन्‍होंने कहा कि, ‘ मैंने अखबारों में पढ़ा कि ब्‍लड टेस्‍ट से लिंग का पता चल जाएगा, तब तक तो हम लोगों को अपराधी बना देंगे। इससे बढि़या है कि हम नीति बदल देते हैं और प्रत्‍येक गर्भवती महिला केलिए इसे आवश्‍यक कर देते हैं। इससे आप पता लगा सकेंगे कि लड़की होने पर उसका जन्‍म हुआ या नहीं। इससे सारी परेशानी को सुलझाने में आप सक्षम होंगे। इससे आप बच्चियों को और पोषण देने में सफल र हेंगे। राजस्‍थान जैसे राज्‍य लड़कियों के लिए पैसे देने के बजाय और बेहतर कार्यक्रम चलाएंगे।’ मेनका बोलीं, मैंने अभी सुझाव दिया है। इस पर चर्चा चल रही है। जल्द फैसला हो जाएगा।

एक कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री ने कहा कि यह महज एक आइडिया है। इस पर चर्चा जारी है, लेकिन अब तक कोई फैसला नहीं लिया गया है। उन्होंने कहा कि इससे गर्भ में बेटियों को मार दिए जाने की समस्या से भी छुटकारा मिल सकता है, क्योंकि गैरकानूनी ढंग से अल्ट्रासाउंड कराने वाले लोगों को पकड़ पाना आसान नहीं है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top