Home > Archived > जाने क्यों दिल्ली हाईकोर्ट ने वीरभद्र सिंह को लगाई फटकार, सुनवाई आज

जाने क्यों दिल्ली हाईकोर्ट ने वीरभद्र सिंह को लगाई फटकार, सुनवाई आज

 Special News Coverage |  5 April 2016 8:03 AM GMT

जाने क्यों दिल्ली हाईकोर्ट ने वीरभद्र सिंह को लगाई फटकार, सुनवाई आज

नई दिल्लीः दिल्ली उच्च न्यायालय आय से अधिक संपत्ति मामले में आरोपी हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की याचिका पर आज सुनवाई करेगा। आपको बता दे इससे पहले सोमवार को आय के ज्ञात स्रोत से अधिक संपत्ति के मामले में आरोपी हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को दिल्ली हाईकोर्ट ने सोमवार को लगाई फटकार थी क्योंकि उनके वकील ने इस आधार पर मामले की सुनवाई टालने की मांग की, उनके वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में व्यस्त हैं।


न्यायमूर्ति प्रतिभा ने कहा, सुनवाई की पिछली तारीख को भी यही हुआ, मैं दलीलें सुनूंगी। एक बार आपको छूट मिल जाती है तो आप आगे नहीं बढ़ना चाहते। सुनवाई का दिन मंगलवार तय करते हुए पीठ ने सिंह के वकील को स्पष्ट किया कि इस मामले में अब और स्थगन नहीं दिया जाएगा।

अदालत ने कहा, "पिछली तारीख को भी पक्ष रखने वाले वकील यहां नहीं थे। याचिकाकर्ता (मामले पर) स्थगन का लाभ ले रहे हैं तथा उसके बाद हर तारीख पर इसी आधार पर (मामले को अगली तारीख के लिए) स्थगित करने की मांग की जा रही है कि पक्ष रखने वाले वकील उपलब्ध नहीं हैं।"

सुनवाई जैसे ही शुरू हुई, सिंह का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील ने यह कहते हुए अगली तारीख की मांग की कि पक्ष रखने वाले वकील सिब्बल शीर्ष अदालत में दूसरे मामले में व्यस्त हैं।

क्या है पूरा मामला
ये मामला 2009 का है, वीरभद्र सिंह पर आरोप है कि इन्होने गलत तरीके से 6 करोड़ रुपए कमाए। वीरभद्र सिंह यूपीए-2 में इस्पात मंत्री थे। इसी दौरान उन पर लगभग छह करोड़ रुपये की आय से अधिक संपत्ति बनाने के आरोप लगे थे। इस मामले में सीबीआई ने जून में ही वीरभद्र सिंह और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ प्रारंभिक जांच का केस दर्ज कर किया था। अब उसी की जांच के लिए छापा मारा। अपने सीएम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने पर राज्य कैबिनेट ने उनका बचाव किया था। कैबिनेट मंत्रियों ने शुक्रवार को ही कहा था कि केंद्र सरकार हिमाचल की कांग्रेस सरकार को अस्थिर करना चाहती है।

आपको बता दे की इस सिलसिले में CBI की टीम ने शनिवार को दिल्ली और हिमाचल प्रदेश के 11 ठिकानों सहित उनके घर शिमला में भी छापेमारी की थी। सीबीआई की छापेमारी में बताया जा रहा है कि उनके आवास से डीए घोटले से संबंधित कई अहम दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। इसी के आधार पर सीबीआई ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की। सुत्रों के मुताबिक शनिवार सुबह करीब आठ बजे सीबीआई की टीम ने उनके शिमला स्थित घर पर छापेमारी की गई। उस दौरान उनके घर पर राज्य डीजीपी और मुख्य सचिव भी मौजूद थे।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top