Breaking News
Home > Archived > बीजेपी में अब चाय बालों का दौर

बीजेपी में अब चाय बालों का दौर

 Special News Coverage |  9 April 2016 3:46 AM GMT


CfhuaB7UIAAGOUc
लखनऊ सत्यम मिश्रा

आज उत्तर प्रदेश के बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष लक्षमीकांत बाजपेयी का कार्यकाल समाप्त होने के उपरांत आज बीजेपी को अपना नया प्रदेश अध्यक्ष मिल गया। ये अध्यक्ष कोई और नहीँ बल्कि उत्तर प्रदेश के फूलपुर से बीजेपी के लोकप्रिय सांसद केशव प्रसाद है। जो आज से बीजेपी को नयी ऊँचाई पर ले जायँगे।

आपको बता दें कि चाय बेचकर देश के प्रधानमंत्री बनने तक का सफ़र तय करने वाले पीएम् मोदी के साथ एक और चाय वाला शामिल हो गया है। कौशांबी के सिराथू के कसया गांव में केशव मौर्य के पिताजी श्री श्यामलाल मौर्य चाय की दुकान चलाते थे। बचपन के दिनों में केशव भी पिता के चाय की दुकान पर उनकी मदद किया करते थे और अपने जीवन यापन करने के लिए अखबार भी बेचा करते थे।


एक चाय वाला अर्थात देश के सबसे लोकप्रिय नेता मोदी जी देश मेँ डूबती बीजेपी की नैया को एक उच्च कोटि का खवैया बन कर डूबने से बचाया और पार्टी को नई ऊँचाई दी थी। जिसके चलते पूर्ण बहुमत की सरकार देश मेँ बनी थी। अब एक और चाय वाले को पार्टी की कमान सौंपने से देखना ये दिलचस्प होगा कि ये मौर्य चाय वाला यूपी मेँ पार्टी को किस ऊँचाई तक ले जाते हैं।

खैर केशव जी के यूँ अचानक प्रदेश अध्यक्ष बनने से सब हक्का-बक्का हैं। क्योंकि इस नाम से भी ऊपर कई नाम थे। जिनमे लखनऊ के मेयर,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और गुजरात के प्रभारी दिनेश शर्मा जो राजनाथ सिंह के काफी करीबी माने जाते हैं। उन्हें इसकी कमान नही सौंपी गयी, बहुत कम लोगों को पता होगा कि केशव मौर्य पहली बार मेँ ही मोदी जी के निरिक्षण में फेल हो गये थे। पर एक कहावत है, कि जो जिसके भाग्य में हैं उसके पास दौड़ कर आयेगा और जो नहीं हैं, वो आकर भी किस्मत से चला जायेगा, जो हुआ भी यही,कल शुक्रवार को यह घोषणा दिल्ली मेँ पार्टी की बैठक के दौरान ली गयी।

2017 में होने वाली यूपी विधानसभा चुनाव के लिए ये फैसला महत्वपूर्ण माना जा रहा है। अगर बात बीजेपी से सांसद केशव जी कि करें तो उनको राजनीति का अच्छा अनुभव प्राप्त है, उन्होंने बताया कि बचपन से ही राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े रहे, बाद मेँ विहिप, बजरंग दल में कई वर्षों तक रह कर अपने दायित्वों का एक सच्चे और ईमानदार कार्यकर्ता के रूप में इसका सफल निर्वाहन किया, और साथ ही साथ राम जन्म भूमि आंदोलन में भाग लिया। राजनैतिकों की माने तो विहिप मे यमुनापार और गंगापार का 18 वर्षों तक सफल प्रचारक होने की वजह से बीजेपी में प्रवेश मिला। केशव जी को 2012 में पहली बार सिराथू विधानसभा सीट से जीत मिली, और इसके ठीक दो वर्ष उपरांत 2014 में, वह फूलपुर से बीजेपी के सांसद चुनें गए। फ़िलहाल लखनऊ की जनता और प्रदेश प्रवक्ता डॉ०चंद्रमोहन ने पार्टी के नव निर्वाचित अध्यक्ष का स्वागत किया।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top