Home > Archived > 2013 का कांडः ढाई साल की मासूम बच्ची के दुष्कर्मी व हत्यारे को फांसी की सज़ा

2013 का कांडः ढाई साल की मासूम बच्ची के दुष्कर्मी व हत्यारे को फांसी की सज़ा

 Special News Coverage |  4 March 2016 12:42 PM GMT

special coverage breaking

सहारनपुर दिनेश मोर्य

ढाई साल की मासूम बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या करने का दोषी पाये जाने पर दुष्कर्मी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई। साथ ही पाचं हज़ार का जुर्माना भी लगाया गया है।


थाना नागल के गांव फतेहपुर कला में 7 फरवरी 2013 की शाम घर के बाहर खेल रही ढाई साल की मासूम पायल को गावं का ही बोबी टाॅफी दिलाने के बहाने बहला कर अपने साथ ईंख के खेत में ले गया था जहां दुष्कर्म के बाद बच्ची की गला घोंट कर हत्या कर दी थी। शव मिलने पर परिजनों ने आरोपी के खिलाफ थाना नागल में बच्ची से दुष्कर्म और उसकी हत्या करने की रिर्पोट दर्ज करायी थी। आरोपी को गिरफतार कर पुलिस ने जेल भेज दिया था।


सहायक शासकीय अधिवक्ता विक्रम जीत सिंह ने बताया कि मामला एडीजे फास्टट्रैक कोर्ट ओम प्रकाश त्रिपाठी की अदालत में विचाराधीन था। एडीजे ने ढाई साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या करने के दोषी पाये जाने पर दुष्कर्मी बोबी को मृत्युदण्ड की सजा सुनाने के साथ ही उस पर पांच हजार का जुर्माना भी लगाया।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top