Home > Archived > ओवैसी को मारने के लिए खरीदी थी पिस्टल अमित जानी ने

ओवैसी को मारने के लिए खरीदी थी पिस्टल अमित जानी ने

 Special News Coverage |  19 April 2016 10:12 AM GMT

Owaisi and Amit Jani
नई दिल्ली
देशद्रोह के आरोपी जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार और उमर खालिद को मारने के लिए जेएनयू में भेजी गई पिस्टल को खरीदने के पीछे यूपी नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी का मकसद ही कुछ और था।

इसे भी पढ़ें कन्हैया को मारने की धमकी देने वाले अमित जानी की गिरफ्तारी को पुलिस की ताबड़तोड़ द्विशें

पुलिस सूत्रों के अनुसार जांच में सामने आया है कि अमित ने मुजफ्फरनगर उपचुनाव के दौरान आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी को जान से मारने की साजिश रची थी। इसके लिए उसने 9 एमएम की दो पिस्टल और 32 बोर की एक पिस्टल मुजफ्फरनगर से सितंबर 2015 में खरीदी थी। मुजफ्फरनगर उपचुनाव में ओवैसी अपने प्रत्याशी का चुनाव प्रचार करने के लिए जाने वाले थे। लेकिन उनके प्रत्याशी ने चुनाव पूर्व अपना नाम वापस ले लिया था जिसके कारण ओवैसी का मुजफ्फरनगर जाने का दौरा रद हो गया था।



इसे भी पढ़ें कन्हैया मामला में अमित जानी के ऑफिस में दिल्ली पुलिस का छापा


पुलिस सूत्रों का कहना है कि उन्हीं पिस्टल को उसने जेएनयू में कन्हैया कुमार और उमर खालिद को मारने के लिए भेजा था। उसने जेएनयू के कुछ छात्रों से संपर्क किया और उन्हें पहले 9एमएम की दो पिस्टल भेजी और फिर 14 अप्रैल को एक और पिस्टल भेजने का प्रयास किया। जिसे पुलिस ने सूचना मिलने पर बरामद कर लिया। बता दें कि अमित जानी ने बीते बृहस्पतिवार को जेएनयू के एक छात्र के लिए पिस्टल, चार कारतूस और एक पत्र डीटीसी बस रूट संख्या-615 से भेजा था। जिसे तिलक मार्ग थाना पुलिस ने बरामद कर लिया था। मामले में अमित जानी का नाम सामने आने के बाद पुलिस ने उसके भाई सौरभ अग्रवाल और उसके दोस्त सुलभ भारद्वाज को रविवार को गिरफ्तार कर लिया था।

इसे भी पढ़ें JNU परिसर में मौत का खौफ, पसरा सन्नाटा चप्पे चप्पे पर चस्पा हुए अमित जानी के पोस्टर

पुलिस सूत्रों की मानें तो भाई सौरभ अग्रवाल के गिरफ्तार होने के बाद अमित जानी दिल्ली से फरार हो गया है। दिल्ली पुलिस, स्पेशल सेल और आइबी की टीमें उसकी तलाश में उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में छापेमारी कर रही हैं। लेकिन अब तक उसका सुराग नहीं लग सका है। पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए उसने दिल्ली हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका दायर की है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top