Home > Archived > यूपी में अपराध का हाल, सपा की ब्लाक प्रमुख 14 दिन से लापता, सुराग न लगने से उठ रहे सवाल

यूपी में अपराध का हाल, सपा की ब्लाक प्रमुख 14 दिन से लापता, सुराग न लगने से उठ रहे सवाल

 Special News Coverage |  14 April 2016 7:43 AM GMT

up_case_080614

बदायूं
जिस पार्टी की प्रदेश में सरकार हो, जिस जिले में पार्टी की ही तूती बोलती हो, यही नहीं जहां मुख्यमंत्री के भाई सांसद हों, ऐसे जिले से १४ दिन से लापता पार्टी की ब्लाक प्रमुख का पता न लगना पुलिस और सत्तारूढ़ पार्टी के लिए और इससे ज्यादा शर्म की क्या बात हो सकती है। इन हालातों ने पार्टी और पुलिस प्रशासन पर कई सवाल भी खड़े कर दिए हैं। घटना में ऐसी क्या बात है, जो पार्टी के नेता बोलने की स्थिति में नहीं हैं। पुलिस भी हवाहवाई बातें मार रही है। हां इन सब बातों से इतना साफ होता दिख रहा है कि पार्टी के ही किसी बड़े नेता के वरदहस्त में इस घटना को अंजाम दिया गया है। यदि ऐसा नहीं है, तो क्या मान लिया जाए कि पुलिस निरंकुश है।



समाजवादी पार्टी की अंबियापुर ब्लाक प्रमुख ३१ मार्च को उस समय अचानक लापता हो गई थीं, जब वह शहर के ही एक स्कूल में बच्चे का रिजेल्ट लेने आई थीं। उस समय इस घटना से पुलिस प्रशासन में हडक़ंप मच गया था। यही नहीं सक्रिय हुई पुलिस जैसे-जैसे समय बीता, तो उसकी हवा निकलती चली गई। अब १४ दिन बीतने के बाद सिर्फ हवाहवाई बातें कहकर लोकेशनें बताई जा रही हैं। इसी दौरान ब्लाक प्रमुख पति हृदयाघात के शिकार हुए और अस्पताल पहुंच गए। लापता ब्लाक प्रमुख कांड पुलिस के साथ सत्तारूढ़ पार्टी और उनके नेताओं पर तमाम सवाल खड़े कर गया है। सबसे अहम बात यह है कि प्रदेश के मुखिया अखिलेश यादव के भाई खुद यहां के सांसद हैं। इसके बावजूद कौन से कारण हैं कि पुलिस पार्टी की ब्लाक प्रमुख को खोजने में नाकाम साबित हो रही है?


पुलिस की गतिविधियों से साफ है कि किसी बड़े दबाव में काम हो रहा है, यही वजह है कि बड़े अफसर तक हवा हवाई बातों के अलावा और कुठ ठोस बात बताने की स्थिति में नहीं लगते। पुलिस सूत्रों की मानें तो पार्टी के जिम्मेदार बड़े नेता खुद इस पूरे मामले में दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। वरना पुलिस २४ घंटे में ब्लाक प्रमुख को बरामद कर लेती। यदि इसको सही मान लिया जाए, तो साफ है कि ब्लाक प्रमुख पति मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष सर्वेश यादव अपनी ही पार्टी के किन्ही बड़े नेताओं के भितरघात के शिकार हुए हैं। पत्नी के अचानक लापता होने का आघात श्री यादव सहन नहीं कर सके। यही वजह रही कि उन्हें हृदयाघात के बाद दिल्ली में भर्ती कराया गया।

बदायूं एक्सप्रेस की खबर

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top