Home > Archived > अच्छे दिन कहां हैं, जिसका काम दिखेगा, उसी की अब सरकार बनेगी- अखिलेश यादव

अच्छे दिन कहां हैं, जिसका काम दिखेगा, उसी की अब सरकार बनेगी- अखिलेश यादव

 Special News Coverage |  24 April 2016 2:47 AM GMT

akhilesh yadav

इलाहाबाद
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को यहां पार्टी के मिशन-2017 का इस सवाल के साथ अनौपचारिक आगाज किया कि अच्छे दिन कहां हैं?
उन्होंने कहा, जिसका काम दिखेगा, उसी की अब सरकार बनेगी। आत्मविश्वास से लबरेज अखिलेश ने उपलब्धियां गिनाईं और विरोधियों को सवालों के घेरे में कसा।


करछना तहसील के चाका ब्लाक अंतर्गत इरादतगंज में शनिवार को करीब सवा तीन सौ करोड़ रुपये की योजनाओं काशिलान्यास करने पहुंचे मुख्यमंत्री ने मंच संभालते ही पिछले चुनावी घोषणा पत्र में किए गए सारे वादों को पूरा करने की बात कही। साथ विपक्षी दलों खास कर भाजपा, बसपा को निशाने पर रखा।



जौनपुर-इलाहाबाद राजमार्ग को फोर लेन किए जाने की भी घोषणा की। बताया कि इलाहाबाद सबसे बड़ा पावर हब बनने जा रहा है। अगस्त तक पुलिस को चार हजार वाहन मिल जाएंगे, तब 15 मिनट में ही पुलिस जरूरतमंदों तक पहुंच जाएगी। राज्य की भर्तियों में गड़बड़ी संबंधी आरोपों को खारिज करते हुए उन्होंने यह भरोसा भी दिलाया कि इलाहाबाद में यमुनापार के सूखाग्रस्त इलाकों के किसानों को बुंदेलखंड की तरह ही राहत दी जाएगी। लैपटाप वितरण, कन्या विधा धन व लोहिया आवास जैसी कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख करते वक्त वह केंद्र सरकार पर तंज कसने से भी पीछे नहीं रहे।


मुख्यमंत्री बोले, बीजेपी से पूछना चाहता हूं कि क्या इससे अच्छी व्यवस्था केंद्र के पास है। बसपा को यह कहते घेरा कि मेट्रो की शुरुआत हमने की, लेकिन कुछ लोग कह रहे हैं कि यह 2008 में शुरू हुई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बसपा सरकार में ही एक्सप्रेस वे बनाने की बात कही गई थी, लेकिन अमल क्यों नहीं हुआ। मुख्यमंत्री का कहना था कि भाजपा अच्छे दिनों का ख्वाब दिखा जनता को गुमराह कर रही है। जनता जागरूक हो गई है।

अतीक नहीं दिया ज्यादा समय
सभा में मौजूद पूर्व सांसद अतीक अहमद को मुख्यमंत्री ने खास तव्वजो नहीं दी। अतीक कई बार उनके नजदीक आए, लेकिन उन्होंने बस एक बार उनका अभिवादन स्वीकार किया और जनसमुदाय की तरफ मुखातिब होकर हाथ हिलाने लगे। पिछले प्रवास में अतीक अहमद के साथ गुफ्तगू करते सीएम की तस्वीरें मीडिया में सुर्खी बनी थी। पूर्व सपा सांसद अतीक अहमद भी शनिवार को इलाहाबाद के इरादतगंज में हुई मुख्यमंत्री की सभा में मंचासीन थे। मुख्यमंत्री का उन्होंने अभिवादन किया लेकिन ठंडे प्रत्युत्तर के बाद खुद हाथ बढ़ा दिया। इसके बाद एक क्षण के लिए मुख्यमंत्री पूर्व सांसद से मिले, लगा यह दौर कुछ और समय लेगा,लेकिन ऐसा नहीं हुआ।


मुख्यमंत्री ने इसी प्रवास में चाका ब्लाक के दांदूपुर गांव में सूबे के पहले समाजवादी अभिनव विद्यालय का शुभारंभ किया। यहां उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि ग्रामीण क्षेत्रों को बच्चों को गुणवत्ता युक्त शिक्षा मिले। आवासीय 18 स्कूलों की श्रृंखला में यह प्रदेश का पहला समाजवादी अभिनव विद्यालय है जिसका शुभारंभ किया गया। मुख्यमंत्री ने यहीं माघ मेले पर आधारित डाक विभाग के विशेष कवर का अनावरण किया। दांदूपुर आने के बाद वह सबसे पहले हाईकोर्ट के जज एस.हसनैन के घर गए।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top