Breaking News
Home > Archived > क्या आप करेंगें बिछड़े छोटू उर्फ़ राजू को परिजनों से है मिलवाने में

क्या आप करेंगें बिछड़े "छोटू उर्फ़ राजू" को परिजनों से है मिलवाने में

 Special News Coverage |  15 April 2016 9:10 AM GMT

missing-kid-in-ghaziabad_1460710445

पिता के साथ मुंबई जाने के लिए घर से निकला 10 वर्षीय छोटू उर्फ राजू परिजनों से बिछड़कर पिछले 15 दिनों से शहर में लावारिस घूम रहा था।

बुधवार देर रात राजनगर एक्सटेंशन चौराहे के पास उसे लावारिस हाल में देखकर दिल्ली के कुछ युवाओं ने छोटू को उसके परिजनों से मिलाने का संकल्प लिया। इन युवाओं ने राजू को सिहानी गेट पुलिस के सुपुर्द किया, जहां से उसे देखरेख के लिए आशादीप फाउंडेशन में भेज दिया गया है।

अब युवाओं की यह टोली फेसबुक, व्हाट्सएप और यू ट्यूब समेत अन्य सोशल साइट्स पर संदेश के जरिए छोटू को उसके मां-बाप से मिलाने के अभियान में जुट गए हैं।


दिल्ली के शाहदरा स्थित मुकेश नगर कालोनी निवासी दिनेश कुमार एलएलबी स्टूडेंट हैं। वह दोस्तों के साथ बुधवार को मोदीनगर में सीकरी देवी मंदिर में माता के दर्शन करने आए थे। रात करीब ढाई बजे राजनगर एक्सटेंशन चौराहे पर वह एक खोखे पर चाय पीने के लिए रुके।



इस दौरान छोटू उन्हें लावारिस हालत में मिला। पूछताछ में उसने बताया कि वह दरभंगा बिहार का रहने वाला है। 15 दिन पहले पिता के साथ दरभंगा से मुंबई जा रहा था। पिता ने उसे ट्रेन में बैठा दिया लेकिन खुद चढ़ नहीं पाए।

वह किसी तरह गाजियाबाद पहुंचा और यहां ट्रेन से उतर गया। तब से वह सड़कों पर घूम रहा है। होटल मालिकों से मिन्नतें कर खाना खा लेता है। चौराहे पर सो जाता है।

दिनेश ने बताया कि दोस्तों के साथ देर रात को ही वह सिहानी गेट थाने पहुंचे और पुलिस को सारी जानकारी दी। पुलिस ने छोटू को आशादीप फाउंडेशन भिजवा दिया है।

छोटू के परिजनों की तलाश में पुलिस के साथ-साथ दिनेश और उनके दोस्त जुटे हैं। दिनेश ने बताया कि फेसबुक, व्हाट्सएप और यू ट्यूब समेत अन्य सोशल साइट्स के माध्यम से भी छोटू के परिजनों की तलाश में वह और उनके दोस्त जुट गए हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top