Top
Begin typing your search...

मुजफ्फरनगरः घायल अक्षय ने तोडा दम, परिजन सदमें

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
मुजफ्फरनगरः घायल अक्षय ने तोडा दम, परिजन सदमें
मुजफ्फरनगर व्यूरो
मुजफ्फरनगर में कल देर शाम बाईक सवार बदमाशों ने जाट कॉलोनी निवासी युवक को गोली मार दी थी। मिली खबर के अंसार उसकी नॉएडा के फोर्टिस हॉस्पिटल में मौत हो गयी है। नॉएडा में ही पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

आपको बता दें कि कल शाम आर्य समाज रोड पर बदमाशों ने एक युवक पर सरेआम गोलियां बरसाकर बस्ती में सनसनी फैला दी। घटना की सूचना पुलिस को दी तो महकमे में हड़कम्प मच गया था। आनन-फानन में पुलिस के आला अफसर मौके पर पहुच गए।

लेकिन अभी तक भी हमलावरों का कोई सुराग नहीं लग पाया है। गोली लगने से घायल हुए युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां से उसे मेरठ रैफर कर दिया। मेरठ में भी इलाज की समुचित व्यबस्था होने पर उसे नॉएडा भेज दिया गया। नोएडा के फोर्टिस हॉस्पिटल में आज तडके उसने दम तोड़ दिया।

नगर के जाट कालोनी निवासी व मूलरूप से झिंझाना थाना क्षेत्र के गांव पुरमाफी निवासी सतीश के पुत्र अक्षय को सिविल लाइन थाना क्षेत्रान्तर्गत आर्य समाज रोड स्थित मीनाक्षी चौक के पास बाईक सवार अज्ञात बदमाशों ने शनिबार शाम गोलियां बरसाकर बुरी तरह लहुलुहान कर दिया था।

घटना के प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार अक्षय को कुल तीन गोलियां मारी गयी। जिनमें एक गोली अक्षय के सिर में तथा दो गोलियां पेट में लगी। गोलियां लगते ही लहुलुहान अक्षय सड़क पर गिर पडा। अचानक गोलियों की आवाज से क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गयी और सूचना मिलने पर पुलिस प्रसाशन के हाथ-पांव फूल गये।

पुलिस अधीक्षक नगर प्रदीप गुप्ता, पुलिस अधीक्षक देहात आलोक प्रियदर्शी, क्षेत्राधिकारी नगर डा.तेजवीर सिंह व क्षेत्राधिकारी मण्डी अरूण कुमार तीनों थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और आनन-फानन में लहुलुहान अक्षय को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। गंभीर घायल होने से उसे मेरठ के लिये रैफर कर दिया।


परिजनों के अनुसार अक्षय जानसठ रोड स्थित स्टेपिंग स्कूल में कक्षा 12 का छात्र था। आज सुबह कालेज जाने के लिये घर से निकला था। लेकिन अभी तक घर नहीं पहुंचा था। अक्षय के साथ हुई वारदात से परिजनों में कोहराम मच गया। समाचार लिखे जाने तक पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी थी, लेकिन उनका कोई सुराग नहीं लग पाया। पुलिस अफसरों के अनुसार समाचार लिखे जाने तक किसी के द्वारा कोई तहरीर नहीं दी गयी थी।
Special News Coverage
Next Story
Share it