Home > Archived > छात्रों की आवाज दबाने वाले असली राष्ट्रविरोधी -राहुल गांधी

छात्रों की आवाज दबाने वाले असली राष्ट्रविरोधी -राहुल गांधी

 Special News Coverage |  13 Feb 2016 4:37 PM GMT

छात्रों की आवाज दबाने वाले असली राष्ट्रविरोधी -राहुल गांधी

नई दिल्ली: जेएनयू में राष्ट्रविरोधी नारेबाज़ी के बाद बढ़ते विवाद के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार शाम को जेएनयू का दौरा किया और छात्र की गिरफ्तारी पर सरकार की आलोचना की। राहुल ने कहा कि राष्ट्रविरोधी क्या है, ज्यादा राष्ट्रविरोधी लोग वे हैं जो जेएनयू में छात्रों की आवाज दबा रहे हैं।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा और अजय माकन के अलावा सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी व सीपीआई नेता डी राजा भी जेएनयू में मौजूद रहे। राहुल गांधी जब कैंपस में पहुंचे तो कुछ छात्रों ने उन्हें काले झंड़े दिखाए। छात्रों की नारेबाजी को देखते हुए रजिस्ट्रार ने माइक बंद करने के आदेश दिए।



राहुल गांधी ने जेएनयू पहुंचकर भी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने अभिव्यक्ति की आजादी का मुद्दा उठाया। राहुल गांधी के काफिले को ABVP ने घेर लिया और उन्हें काले झंडे दिखाए। राहुल गांधी ने जेएनयू में छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, 'मैं कुछ दिन पहले हैदराबाद में था और तब भी कुछ नेता रोहित वेमुला को देशद्रोही बता रहे थे। सबसे बड़े देशद्रोही तो वे लोग हैं जो इस संस्थान के अंदर से निकलने वाली आवाज को दबाना चाहते हैं।'

रिजीजू ने कहा, यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी लेकिन ये कोई छोटे बच्चे नहीं हैं कि उन्हें यह नहीं पता हो कि वे क्या कर रहे हैं। अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर आप देश को गाली नहीं दे सकते।

उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस ने उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर कार्रवाई की और किसी को भी राष्ट्रीय हित, देश की एकता एवं अखंडता के मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। रिजीजू ने कहा कि जेएनयू के छात्रों को कुछ राजनीतिक पार्टियां बढ़ावा देती हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top