Home > तकनीकी > नीता अंबानी अमेरिका के सबसे बड़े आर्ट म्यूजियम की पहली भारतीय ट्रस्टी चुनी गईं

नीता अंबानी अमेरिका के सबसे बड़े आर्ट म्यूजियम की पहली भारतीय ट्रस्टी चुनी गईं

 Special Coverage News |  13 Nov 2019 6:14 AM GMT  |  दिल्ली

नीता अंबानी अमेरिका के सबसे बड़े आर्ट म्यूजियम की पहली भारतीय ट्रस्टी चुनी गईं

मुंबई. रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी (57) न्यूयॉर्क के मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट के बोर्ड में शामिल की गई हैं। वे म्यूजियम की पहली भारतीय मानद (ऑनरेरी) ट्रस्टी बन गई हैं।म्यूजियम के चेयरमैन डेनियल ब्रॉडस्की ने ये जानकारी मंगलवार को दी। नीता अंबानी पिछले कई साल से मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम की प्रदर्शनियों को सपोर्ट कर रही हैं। ये अमेरिका का सबसे बड़ा आर्ट म्यूजियम है।

नीता भारतीय कला-संस्कृति का दुनियाभर में प्रचार कर रहीं

नीता अंबानी ने 2017 में कहा था कि मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम के जरिए भारतीय कला को एक प्रतिष्ठित संस्थान में प्रदर्शन का मौका मिला और हम कला के क्षेत्र में काम जारी रखने के लिए प्रोत्साहित हुए। नीता रिलायंस फाउंडेशन के जरिए भारतीय कला और संस्कृति का दुनियाभर में प्रचार कर रही हैं। वे देश में खेल और विकास की योजनाओं को भी बढ़ावा दे रही हैं।

मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम 149 साल पुराना है। यहां दुनियाभर की 5000 साल पुरानी कलाकृतियां भी मौजूद हैं। हर साल लाखों लोग म्यूजियम देखने पहुंचते हैं। इनमें कई अरबपति और सेलेब्रिटी भी होते हैं। म्यूजियम के चेयरमैन डेनियल ब्रॉडस्की ने मंगलवार को कहा कि नीता अंबानी की मदद से म्यूजियम की कला के अध्ययन और प्रदर्शन की क्षमताओं में काफी इजाफा हुआ।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top