Top
Begin typing your search...

भारत ही नहीं विदेशों में भी दौड़ेगी "मेक इन इंडिया" के तहत निर्मित कोचों के मेट्रो

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Make in India
नई दिल्ली

भारत ही नहीं विदेशों में भी दौड़ेगी "मेक इन इंडिया" के तहत निर्मित कोचों के मेट्रो। केंद्र में स्थापित मोदी सरकार की "मेक इन इंडिया" मिशन का असर दिखाई देने लगा है। भारत के पोत परिवहन मंत्रालय के अनुसार मेट्रो के 6 कोचों की पहली खेप को ऑस्ट्रेलिया को निर्यात किया गया है। वडोदरा में तैयार किए गए इन मेट्रो कोचों को मुंबई बंदरगाह से ऑस्ट्रेलिया भेजा गया।


ऑस्ट्रेलिया भेजे गये प्रत्येक मेट्रो कोच 15 फीट लंबा और 46 टन वजन का है। इन कोचों को लोड करने का काम मुंबई पोर्ट ट्रस्ट ने किया है। भारत अगले ढाई वर्षों में कुल 450 मेट्रो कोच ऑस्ट्रेलिया को निर्यात करेगा। विश्व में मेट्रो कारों की अग्रणी कंपनी बॉमबार्डियर के वड़ोदरा के नजदीक सावली कारखाने में यह कोच बने है।

सबसे दिलचस्प बात है कि पहली बार कंपनी ऑस्ट्रेलिया को पूरी मेट्रो ट्रेन का निर्यात कर रही है। ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड ने बॉम्बार्डियर को 6 कोच वाली कुल 75 मेट्रो ट्रेन का ऑर्डर दिया था। यह समझौता करीब 2.7 बिलियन डॉलर का है। इसको पूरा करने के लिए कम्पनी को ढाई वर्ष का समय मिला हुआ है।

भारत में लग रहा है की पीएम मोदी की मेक इन इंडिया विजन को असली जामा पहनना शुरू हो गया है। आज पहली बार मेट्रो के डिब्बे निर्यात कर भारत के हाथ एक बड़ी सफलता आई है।
Special News Coverage
Next Story
Share it