Top
Begin typing your search...

RSS खोलेगा आर्मी स्‍कूल, कहा- अगर कोई इसको हिंदुत्‍व से जोड़ना चाहता है तो...

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में अप्रैल से शुरू होने वाले राष्ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) द्वारा संचालित पहले 'आर्मी स्कूल' की शिक्षा का 'संस्कार', 'संस्कृति' और 'समरसता' मूल होंगे, जो देश के भावी जवानों को दिए जाएंगे.

RSS खोलेगा आर्मी स्‍कूल, कहा- अगर कोई इसको हिंदुत्‍व से जोड़ना चाहता है तो...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में अप्रैल से शुरू होने वाले राष्ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) द्वारा संचालित पहले 'आर्मी स्कूल' की शिक्षा का 'संस्कार', 'संस्कृति' और 'समरसता' मूल होंगे, जो देश के भावी जवानों को दिए जाएंगे. इस स्कूल को रज्जू भैया सैनिक विद्या मंदिर (आरबीएसवीएम) के नाम से जाना जाएगा और यह अपनी तरह का पहला स्कूल होगा, जिसे आरएसएस द्वारा संचालित किया जाएगा. रज्जू भैया, आरएएस के पूर्व प्रमुख थे.

आरएसएस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "हम चाहते हैं कि रक्षा बलों में शामिल होने के इच्छुक लोगों को उचित संस्कार, संस्कृति व समरसता की शिक्षा मिले, जिससे हमारे रक्षा बल आने वाले सालों में ज्यादा मजबूत हों." उन्होंने कहा, "विचार शिक्षा के साथ-साथ नैतिक व आध्यात्मिक मार्गदर्शन छात्रों को देना है और यह सिर्फ आवासीय स्कूलों में संभव है."

संघ कार्यकर्ता छात्रों को नैतिक व आध्यात्मिक मार्गदर्शन प्रदान करेंगे, जो उन्हें सशस्त्र बलों के करियर में डटकर मुकाबला करने में मदद देगा.

यह पूछे जाने पर कि नैतिक व आध्यात्मिक मार्गदर्शन हिंदुत्व के सबक में निहित होगा तो कार्यकर्ता ने कहा, "हमारा ध्यान राष्ट्रभक्ति पर केंद्रित है और अगर कोई इसे हिंदुत्व के साथ तुलना करना चाहता है तो यह उसकी मुश्किल है."

(इनपुट: एजेंसी आईएएनएस)

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it