Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > एटा > शर्मनाक : अस्पताल में नहीं मिली व्हीलचेयर, रेप पीड़िता को पीठ पर लादकर भटकता रहा पिता

शर्मनाक : अस्पताल में नहीं मिली व्हीलचेयर, रेप पीड़िता को पीठ पर लादकर भटकता रहा पिता

वीडियो वायरल होने के बाद भी कोई अधिकारी जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं हुआ.

 Special Coverage News |  19 Dec 2019 7:03 AM GMT  |  दिल्ली

शर्मनाक : अस्पताल में नहीं मिली व्हीलचेयर, रेप पीड़िता को पीठ पर लादकर भटकता रहा पिता
x

एटा : देश में आए दिन रेप की खबरें सामने आ रही हैं, साथ ही पीड़िता के साथ समाज की संवेदनहीनता की कहानियां भी आ रही हैं. उत्तर प्रदेश के एटा से एक ऐसा ही मामला सामने आया है. जहां एक पिता अपनी बलात्कार पीड़िता बेटी को अस्पताल से व्हीलचेयर या स्ट्रेचर न मिलने की स्थिति में पीठ पर लादकर ले गया. घटना का वीडियो वायरल होने के बाद अस्पताल प्रशासन को तलब किया गया है.

15 साल की पीड़िता को उसी के पड़ोस में रहने वाले 19 साल के लड़के ने एक कमरे में कैद रखकर कई घंटों तक बलात्कार किया. बचकर भागने के क्रम में पीड़िता का पैर टूट गया. मरहेरा एसएसओ जीतेंद्र भदौरिया के मुताबिक 14 दिसंबर को एक एफआईआर दर्ज हुई थी जिसके बाद आरोपी अंकित यादव को जेल भेज दिया गया था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज कराने के बाद पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया. जिला अस्पताल के अंदर बने वन स्टॉप सेंटर में पीड़िता के साथ उसके पिता और एक महिला कांस्टेबल गए थे. वहां से पीड़िता को महिला अस्पताल ले जाना था, जिसके लिए स्ट्रेचल या व्हीलचेयर नहीं मिल सकी. मजबूरी में पिता ने बेटी को पीठ पर लादा और भटकता रहा.

वीडियो वायरल होने के बाद भी कोई अधिकारी जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं हुआ. एटा सीएमओ डॉक्टर अजय अग्रवाल ने कहा कि वीडियो देखने के बाद हमने जांच की तो पता चला कि वह सेंटर नया बना है और वहां स्ट्रेचर आदि की सुविधा नहीं है. हमने कार्यालय को पत्र लिखकर ये सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कहा है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it