Top
Begin typing your search...

अयोध्‍या केस के फैसले में CJI रंजन गोगोई ने भगवान राम और उनके जन्‍मस्‍थान के लिए क्‍या-क्‍या कहा?

अयोध्‍या केस के फैसले में CJI रंजन गोगोई ने भगवान राम और उनके जन्‍मस्‍थान के लिए क्‍या-क्‍या कहा?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अयोध्‍या केस (Ayodhya Case Verdict) में ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई (Ranjan Gogoi) ने कहा कि हिंदुओं का विश्वास कि भगवान राम का जन्म अयोध्या में उक्त स्थल पर हुआ था, "अविवादित" है. उन्‍होंने फैसले में कहा कि हिंदू अयोध्या को भगवान राम की जन्मभूमि मानते हैं. उनमें धार्मिक भावनाएं हैं.

चीफ जस्टिस ने कहा कि हिंदुओं की आस्था और विश्वास है कि भगवान राम (Lord Ram) का जन्म विवादित जगह पर हुआ था. हिंदुओं की आस्था है कि भगवान राम का जन्म निर्विवाद रूप से यहीं हुआ था. उन्‍होंने कहा कि टाइटल दावे के आधार पर ही तय होगा, न कि आस्‍था और विश्‍वास के नाम पर.

मुख्य न्यायाधीश गोगोई ने कहा कि ऐतिहासिक वृत्तांत हिंदुओं के विश्वास का संकेत देते हैं कि अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि थी. उन्होंने कहा कि सबूतों से पता चलता है कि ब्रिटिश आक्रमण से पहले हिंदुओं द्वारा 'राम चबूतरा' और सीता रसोई की पूजा की जाती थी. मुख्य न्यायाधीश गोगोई ने कहा कि अभिलेखों में साक्ष्य बताते हैं कि विवादित भूमि का बाहरी हिस्‍सा हिंदुओं के कब्जे में था.


Special Coverage News
Next Story
Share it