Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > फतेहपुर > जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर के इमरजेंसी वार्ड में मोबाइल की रौशनी में डॉक्टर कर रहे मरीजों का इलाज

जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर के इमरजेंसी वार्ड में मोबाइल की रौशनी में डॉक्टर कर रहे मरीजों का इलाज

 Special Coverage News |  2018-10-11 10:16:39.0  |  फतेहपुर

जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर के इमरजेंसी वार्ड में  मोबाइल की रौशनी में डॉक्टर कर रहे मरीजों का इलाज

धीरेन्द्र सिंह"राणा"

फ़तेहपुर: जिला अस्पताल में इस समय अव्यवस्थाये ही अव्यवस्थाएं नजर आ रही है। मरीजो की सुविधाओ का तो शायद इस अस्पताल में ध्यान रखना बन्द किया जा चुका है। जिला अस्पताल में स्ट्रेचर, वार्डबॉय, एक्सरे आदि की सुविधा तो पहले से ही बद से बदत्तर है पर अब जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर के इमरजेंसी वार्ड में बिना लाइट के इलाज करने का मामला सामने आया जिसके बाद से हड़कंप मच गया। ट्रामा सेंटर के अंदर मरीजो के इलाज के लिए मोबाइल की रौशनी का इस्तेमाल किया जा रहा है।

फतेहपुर जिले के सरकारी अस्पताल में अव्यवस्था का आलम ऐसा है कि मंगलवार को रात में बिजली कट जाने के बाद अस्पताल के ट्रामा सेंटर के अंदर मरीजो के इलाज के लिए मोबाइल की टार्च का इस्तेमाल किया जा रहा है और अस्पताल में जनरेटर बन्द था व इन्वर्टर भी खत्म हो गया था। जिम्मेदारों की माने तो जनरेटर में तेल न होने के कारण ही वो नही चल पा रहा था जबकि ट्रामा सेंटर में मौजूद डॉक्टर ने बताया कि मोबाइल की रौशनी से ही काम चलाया जा रहा है और मरीजो का कहना था कि पिछले 1 से 2 घण्टे तक लगातार बिजली नही आ रही है। जिला अस्पताल में मरीजो की ज़िंदगी के साथ खिलवाड़ ही हो रहा है कि बिना बिजली के मरीजो को इंजेक्शन दिए जा रहे , मलहम पट्टी किया जा रहा है और उनका इलाज हो रहा है।

Tags:    
Share it
Top