Top
Begin typing your search...

गाजियाबाद पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मिन्टू त्यागी गैंग के 6 शातिर बदमाश किए गिरफ्तार

थाना प्रभारी सिहानी गेट ने ने शातिर लुटेरों को मय लुटे हुए माल जेवरात व मोबाइल तथा एक तमंचा, एक रिवॉल्वर व 3 अदद पिस्टल मय कारतूस सहित गिरफ्तार किया है.

गाजियाबाद पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मिन्टू त्यागी गैंग के 6 शातिर बदमाश किए गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद : दिल्ली-एनसीआर से सटे गाजियाबाद में पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. गाजियाबाद के थाना सिहानीगेट पुलिस ने मिन्टू त्यागी गैंग के 6 शातिर बदमाश गिरफ्तार किए हैं. दरअसल, थाना प्रभारी सिहानी गेट के नृतृत्व में भोले बाबा ढावे के पास भट्टा न. 5 से 6 शातिर लुटेरों को मय लुटे हुए माल जेवरात व मोबाइल तथा एक तमंचा, एक रिवॉल्वर व 3 अदद पिस्टल मय कारतूस सहित गिरफ्तार किया है.

एसपी सिटी गाजियाबाद श्लोक कुमार ने घटना की प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि अभियुक्त शातिर किस्म के लुटेरे हैं. इन्होने पूर्व में की गई लूट व हत्या कि घटनाओं को क़ुबूल किया है. पूछताछ के दौरान इन्होनें बताया कि हम लोग योजनाबद्ध तरीके से लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देते हैं. इससे पहले भी कई जगह असलाह की नौक पर पर लूट व हत्या की घटना को अंजाम दे चुके हैं.




2017 में मिंटू, रवि व बंटी ने पैसे के लेनदेन में व्यापारी गगन खडूजा की हत्या कर चुके हैं हत्या के मुकद्दमे में जेल भी जा चुके हैं. जेल में रहने के दौरान मिंटू त्यागी की मुलाकात गिरिशी उर्फ़ गजेंद्र निवासी बम्हैटा से हुई. जो कि एक शातिर बदमाश है. गिरिशी जेल से अपने काम में मिंटू को बताता रहता था तथा जेल से अपने मुकद्दमों से सम्बंधित लोगों पर निगरानी रखबाता था. मिंटू व उसके गेंग मेम्बर कि लड़ाई अंकुर उर्फ़ सिट्टी से हो गई जिसकी हत्या की इन्होनें प्लानिंग कर रखी थी. यह लड़ाई इनके कॉलेज की दिनों से चली आ रही है इसके लिए मिंटू ने आकाश ललियाना व रवि करनावल को दिनांक 14/05/2019 को बुलाया था. उसी दिन डॉ. निरंजन कुमार जिनका क्लीनिक भट्टा न. 5 है क्लीनिक के अंदर घुसकर डॉ. से सोने की चैन व अंगूठी हथियारों के बल से लूट ली थी.

मिंटू त्यागी की मुलाकात आकाश और रवि से जेल में हुई थी तथा तभी से दोस्ती भी हो गई थी. जेल से आने के बाद एक साथ मिलकर लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे.

रिपोर्टर : कुलदीप

Special Coverage News
Next Story
Share it