Top
Begin typing your search...

यूपी के गाजियाबाद में दलित महिला को मंदिर में जाने से रोका, हुआ हंगामा

दोनों पक्षों के लोगों ने बात की है। चौकी प्रभारी की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

फ़ाइल फोटो
X
फ़ाइल फोटो
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद: सिहानीगेट थाना क्षेत्र के नूर नगर में एक दलित महिला को मंदिर में प्रवेश करने से रोक दिया गया। आरोप है कि पुजारी के बेटे ने महिला के साथ गाली-गलौज की और लात भी मारी। इस घटना के बाद इलाके में हंगामा मच गया। इस मामले में पीड़ित की तरफ से सिहानी गेट थाने में तहरीर दी गई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

ग्राम नूरनगर सिहानी में रहने वाली 50 वर्षीय शकुंतला देवी का कहना है कि वह बुधवार सुबह करीब 8 बजे घर के पास स्थित शिव मंदिर में जलाभिषेक करने गईं थीं। मंदिर के गेट पर ही पुजारी के बेटे ने उन्हें रोक दिया और उनसे जाति-बिरादरी पूछी। जब उन्होंने अपनी जाति बताई तो उसने कहा कि वह मंदिर में नहीं जा सकतीं। पीड़िता का कहना है कि जब उन्होंने वजह पूछी, तो उसने जातिसूचक शब्द कहे और गालियां भी दीं। वह मंदिर की तरफ बढ़ीं तो आरोपित ने उन्हें लात मार दी, जिससे वह गिर गईं। पीड़िता ने घर पहुंचकर अपने बेटे एडवोकेट उदयवीर व अन्य लोगों को इसकी सूचना दी। इसके बाद सभी लोग मंदिर के पास जुटे और हंगामा शुरू कर दिया।

वहीं जब यह मामला थाने में पहुंचा तो पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया। मामला आला अधिकारियों तक पहुंचने से पहले ही थाना पुलिस दोनों पक्षों में समझौता करवाने के प्रयास में जुट गई। सूत्रों की मानें तो देर रात तक पुलिसकर्मी और अधिकारी दोनों पक्षों में समझौते का प्रयास करते रहे। उदयवीर का कहना है कि आरोपित अगर मंदिर में माफी मांगे तो वह अपनी शिकायत वापस ले लेंगे। एसएचओ सिहानी गेट उमेश बहादुर सिंह ने बताया कि तहरीर की जांच चौकी प्रभारी प्रजंत त्यागी को सौंपी गई थी। दोनों पक्षों के लोगों ने बात की है। चौकी प्रभारी की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Special Coverage News
Next Story
Share it