Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजियाबाद > Ghaziabad Mass Suicide: वो आखिरी वीडियो कॉल जिसके बाद गुलशन वासुदेवा ने परिवार के साथ कर लिया सुसाइड

Ghaziabad Mass Suicide: वो आखिरी वीडियो कॉल जिसके बाद गुलशन वासुदेवा ने परिवार के साथ कर लिया सुसाइड

 Special Coverage News |  3 Dec 2019 1:06 PM GMT  |  गाजियाबाद

Ghaziabad Mass Suicide: वो आखिरी वीडियो कॉल जिसके बाद गुलशन वासुदेवा ने परिवार के साथ कर लिया सुसाइड

गाजियाबाद. इंदिरापुरम के वैभव खंड स्थित कृष्णा आपरा सफायर अपार्टमेंट में कारोबारी गुलशन वासुदेवा ,पत्नी, बिजनेस पार्टनर और दो बच्चों के सुसाइड केस में एक बड़ा खुलासा हुआ है. रात 10 बजे के पास कोलकाता से अचानक एक कॉल आया और गुलशन वासुदेवा परेशान हो गया. गुलशन वासुदेवा के करीबी रमेश चंद्र अरोड़ा वो शख्स हैं, जिनसे गुलशन ने कोलकाता से आखिरी बार बात की थी. अरोड़ा से बात करने के बाद ही गुलशन वासुदेवा ने देर रात सुसाइड किया. मृतक गुलशन वासुदेवा ने परिवार के करीबी रमेश चंद्र अरोड़ा के मुताबिक गुलशन ने वीडियो कॉल कर बताया कि कोलकाता में भी मेरा नुकसान हो गया है. 65 लाख मेरे डूब गए हैं. अब मैं कैसे जिंदा रहूंगा.'

परिवार के करीबी ने किया बड़ा खुलासा

रमेश चंद्र अरोड़ा ने बात करते हुए कहते हैं, 'गुलशन को यह दूसरा झटका लगा था. गुलशन वासुदेवा को दो साल पहले भी खुद के साढ़ू ने नुकसान पहुंचाया था, जिसको लेकर दोनों पक्षों में मुकदमेबाजी भी हो रखी है. गुलशन का साढ़ू जेल भी जा चुका है. लेकिन, मुझे यह भरोसा नहीं था कि वह रात को ही सुसाइड कर लेगा.'

बता दें कि आज सवेरे सवेरे गाजियाबाद के थाना इंदिरापुरम इलाके के वैभव खंड स्थित कृष्णा आपरा सफायर सोसाइटी की आठवीं मंजिल के ए-806 फ्लैट से एक साथ पांच लाशें निकलीं. एक ही अपार्टमेंट में से पांच-पांच लाशें निकलना लोगों के लिए चर्चा का विषय बना हुआ है. हर आने जाने-वाले गाड़ी रोक कर घटना के बारे में जानना चाहते हैं और इसको लेकर लोग अपने-अपने तरीके से नाराजगी जाहिर कर रहे हैं. इस सुसाइड केस में गुलशन की बिजनेस पार्टनर और महिला मित्र संजना की भी मौत हुई है. संजना, गुलशन वासुदेवा के यहां बतौर मैनेजर काम करती थी.

आर्थिक तंगी से जूझ रहा था परिवार

अपार्टमेंट में मौजूद गार्ड के मुताबिक संजना सोमवार की रात लगभग 9 बजे के आसपास ए-806 में पुहंची थी. दो बच्चे जिसमें एक की उम्र 11 और दूसरे की उम्र 12 साल समेत घर में कुल 5 सदस्य मौजूद थे. सोमवार देर रात या मंगलवार 3 और 4 बजे के आसपास परिवार का मुखिया गुलशन, उसकी पत्नी परवीन और साथी कर्मचारी संजना ने आठवीं मंजिल से छलांग लगाई. जिसमें गुलशन वासुदेवा और परवीन की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि संजना को गंभीर हालत में अस्पताल भेजा गया जहां पर उसकी भी मौत हो गई.

मौके पर मौजूद गार्ड ने पुलिस की सूचना दी तो घटना की जांच के लिए आठवीं मंजिल पर स्थित उनके फ्लैट को खोला गया. जब फ्लैट खुला तो पुलिस के भी होश उड़ गए. घर के अंदर एक लड़की और एक लड़के की लाश भी बेड पर पड़ी हुई थी. घर में एक पालतू खरगोश को मार दिया गया था. साथ ही कमरे की दीवार पर सुसाइड नोट भी लिखा हुआ था, जिसमें परिवार की आत्महत्या के कारण और जिम्मेदार व्यक्ति का नाम लिखा था.


सुसाइड नोट में करीबी रिश्तेदार को जिम्मेदार ठहराया

सुसाइड नोट में सुसाइड करने का कारण आर्थिक तंगी और कुछ लोगों पर बड़ी रकम का बकाया होना बताया गया है. सुसाइड नोट में मृतक ने साढ़ू राकेश वर्मा को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है. दिल्ली के झिलिमल इलाके का रहने वाला गुलशन वासुदेवा तीन भाई-बहनों में सबसे छोटा था. कुछ समय पहले ही वह इंदिरापुरम में रहने आया था. जिस मकान में वह रहा है वह किराए का मकान है. दिल्ली के गांधी नगर में गुलशन जींस का कारोबार करता था.

गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने कहा, 'गुलशन वासुदेवा काफी मानसिक तनाव में था. अभी तक की तहकीकात में यह पता चला है. गुलशन पर तकरीबन डेढ़ से 2 करोड़ रुपये बकाया थे. मृतक जींस की फैक्ट्री चलाता था, जिसमें भी उसे घाटा हो गया. इन दिनों वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था. उसकी एक बड़ी रकम अपने रिश्तेदार के पास फंसी हुई है, वह रिश्तेदार रकम दे नहीं रहा था. रिश्तेदार के दो चेक हाल-फिलहाल में बाउंस भी हो गए. इस वजह से रकम उसे वापस नहीं मिल पा रही थी. म़तक के साढ़ू राकेश वर्मा के परिवार को हिरासत में ले लिया गया है. हिरासत में लिए गए उसका परिवार बताया है कि वह शहर से बाहर हैं. हमलोग उसकी छानबीन कर रहे हैं.'

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it