Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > गाजियाबाद > इंदिरापुरम सुसाइड केस : जान लेने पर आमादा पिता से बेटी ने किया था संघर्ष!

इंदिरापुरम सुसाइड केस : जान लेने पर आमादा पिता से बेटी ने किया था संघर्ष!

 Special Coverage News |  5 Dec 2019 4:21 AM GMT

इंदिरापुरम सुसाइड केस : जान लेने पर आमादा पिता से बेटी ने किया था संघर्ष!

गाजियाबाद: वैभव खंड की कृष्णा अपरा सफायर सोसायटी में मरने वाले 5 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट बुधवार को आ गई। इनमें कारोबारी गुलशन वासुदेव के शरीर पर 4 जगह चोट के निशान मिले हैं। उनकी पत्नी परवीना और संजना के शरीर में ऊंचाई से गिरने की वजह से 5 जगह चोटें हैं। इससे कोमा और हेमरेज से उनकी मौत हो गई। बेटे रितिक के गले पर धारदार हथियार के निशान पाए गए हैं। हालांकि बेटी कृतिका की पीएम रिपोर्ट ने पुलिस की जांच को उलझा दिया है।

कृतिका के गले पर धारदार हथियार से वार के साथ रस्सी से लटकाए जाने की भी बात सामने आई है। अनुमान लगाया जा रहा है कि कृतिका को पहले फंदे से लटकाया गया, फिर उसका गला रेता गया था। रिपोर्ट के मुताबिक, मरने से पहले कृतिका ने बचने के लिए काफी संघर्ष किया था। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह का कहना है कि पुलिस कई ऐंगल पर जांच कर रही है। इसके बाद ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकेगा।

पुलिस ने सुरक्षित नहीं रखा विसरा

पूरे मामले में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। गुलशन के साढ़ू को गिरफ्तार कर गुडवर्क दिखाने की जल्दी में मृतकों का विसरा तक सुरक्षित करने की जहमत नहीं उठाई गई। ज्यादातर बड़े मामलों में पुलिस ऐसा करती है। इस केस में पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिवार को सौंप दिए। हालांकि पुलिस की जांच अब भी जारी है। सोसायटी और टावर की सीढ़ियों पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है। पुलिस यह शक दूर करना चाह रही है कि घटना से पहले कोई अन्य शख्स फ्लैट में दाखिल नहीं हुआ था।

गुलशन ने कई लोगों से लिया था उधार

एसएसपी ने बताया कि जांच में पता चला है कि गुलशन ने कई लोगों से रुपये उधार लिए थे। वे कर्ज लौटाने के लिए दबाव बना रहे थे। तकादा होने के कारण गुलशन तनाव में था। अभी मामले की और जांच की जा रही है। दीवार पर लिखे गए नोट की हैंडराइटिंग एक्सपर्ट से जांच कराई जा रही है। कारोबारी और उसकी पत्नी के साथ खुदकुशी करने वाली महिला संजना के बारे में भी पुलिस पता कर रही है।

फीस देने के लिए भी नहीं थे पैसे

गुलशन एक महीने से बेटे रितिक और बेटी कृतिका की फीस तक जमा नहीं कर पा रहे थे। बच्चों के फीस मांगने पर अगले महीने देने की बात कहकर टाल रहे थे। इस बात का खुलासा सोसायटी में रहने वाले कृतिका और रितिक के दोस्तों ने किया है।

दूसरी पत्नी संजना भी वापस मांग रही थी पैसे

गुलशन के कुछ दोस्तों के मुताबिक, उन्होंने संजना से भी लाखों रुपये लेकर कोलकाता की कंपनी में लगाए थे। संजना इन्हें वापस करने का दबाव बना रही थी। इस बात पर अक्सर दोनों में विवाद होता था। दूसरी तरफ संजना के भाई फिरोज ने दावा किया है कि संजना सिर्फ गुलशन की बिजनस पार्टनर नहीं थीं, बल्कि उनकी पत्नी भी थी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it