Top
Begin typing your search...

गुस्सा में आये परिजनों की सुनी एसएसपी ने बात, मारपीट का मामला हत्या में कराया तरमीम

गुस्सा में आये परिजनों की सुनी एसएसपी ने बात, मारपीट का मामला हत्या में कराया तरमीम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद के थाना भोजपुर के गांव सात बिस्वा में करीब 65 दिन पहले 700 रुपये के लेनदेन को लेकर तीन लोगों ने एक युवक को बंधक बना कर बेरहमी से पीटा और बेहोश होने पर जंगल में फेंक दिया। बीती रात दिल्ली के अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत होने से उत्तेजित लोगों ने शव के साथ एसएसपी निवास पर हंगामा किया। मामले की नजाकत को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया। एसएसपी ने हत्या का मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए तो लोग वापस चले गए।

भोजपुर के गांव भोजपुर में दो माह पहले 25 वर्षीय चांद मौहम्मद को 700 रुपये के लेनदेन को लेकर तीन लोगों ने बंधक बना लिया था और बेरहमी से उसकी पिटाई की थी। बेहोश होने पर उसे जंगल में सुनसान में फेंक दिया गया था। इसकी जानकारी मिलते ही परिजनों जबरदस्त हंगामा किया और उस मामले में तहरीर दी गई। घायल चांद मोहम्मद को दिल्ल की आर्यन अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां बीतीरात उसने दम तोड़ दिया। इस मामले में किसी ने यह कह दिया का अब पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करेगी तो उत्तेजित लोग एसएसपी निवास पर शव समेत पहुंच गए और हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की। हंगामा होते देख तुरत ही भारी पुलिस बल एसएसपी निवास पर तैनात कर दिया गया।

बाद में पांच लोगों को एसएसपी उपेंद्र अग्रवाल से मिलवाया गया। लोगों ने युवक के मामले को हत्या में दर्ज करने की मांग की तो एसएसपी ने हत्या का मामला दर्ज करने के आदेश कर दिए। इसी के साथ लोग शांत हो गए औऱ वापस लौट गए। इस भोजपुर थानाध्यक्ष ज्ञानेश्वर बौध ने बताया कि चांद मोहम्मद के मामले में थाने पर 323/325/504/506 आईपीसी में अभियोग पहले से पंजीकृत है। उसकी मौत होने से बाद यह मामला अब हत्या के अपराध में तरमीम कर दिया गया है। इस मामले में तीन लोगों को नामजद किया गया है।

Special Coverage News
Next Story
Share it