Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > झांसी > झांसी पुष्पेंद्र एनकाउंटर केस: तेजबहादुर यादव और उनके 36 समर्थक झांसी जेल से रिहा

झांसी पुष्पेंद्र एनकाउंटर केस: तेजबहादुर यादव और उनके 36 समर्थक झांसी जेल से रिहा

तेज बहादुर ने बीते मंगलवार को पुष्पेंद्र यादव के घर पहुंचकर उनके परिवारवालों से मुलाकात की थी. इसके बाद वो धरने पर बैठ गए थे.

 Special Coverage News |  11 Oct 2019 5:45 AM GMT  |  झांसी

झांसी पुष्पेंद्र एनकाउंटर केस: तेजबहादुर यादव और उनके 36 समर्थक झांसी जेल से रिहा

झांसी. झांसी में पुष्पेंद्र यादव इनकाउंटर मामले में मोठ तहसील में धरना देने के दौरान पुलिस ने तेज बहादुर यादव (Tej Bahadur Yadav) समेत 39 लोगों को गिरफ्तार किया था. शुक्रवार सुबह तेज बहादुर अपने समेत 36 समर्थकों के साथ जेल से रिहा हो गए.

बताया जा रहा है कि कुछ कानूनी प्रकिया पूरी न होने के कारण 2 समर्थक अभी जेल में ही बंद है. जेल से रिहा होने के बाद तेज बहादुर हरियाणा के लिए रवाना हो गए. दरअसल हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Haryana Assembly Election 2019) में करनाल सीट (Karnal Seat) से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) के खिलाफ तेज बहादुर ताल ठोक रहे हैं.

बता दें कि तेज बहादुर ने बीते मंगलवार को पुष्पेंद्र यादव के घर पहुंचकर उनके परिवारवालों से मुलाकात की थी. इसके बाद वो धरने पर बैठ गए थे. बिना अनुमति धरने पर बैठे तेज बहादुर को पुलिस ने काफी समझाने की कोशिश की, लेकिन वो नहीं माने और अपने साथियों के साथ धरने पर बैठे रहे. इसके बाद रात तकरीबन दो बजे तेज बहादुर और 39 अन्य लोगों को शांति भंग के आरोप में चालान करते हुए जेल भेज दिया गया.

पुष्पेंद्र एनकाउंटर मामले में गरमाई सियासत

पुष्‍पेंद्र यादव एनकाउंटर मामले को लेकर उत्‍तर प्रदेश की राजनीति गरमा गई है. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर पुष्पेंद्र यादव के एनकाउंटर को पुलिस की लिंचिंग करार दिया. उन्होंने कहा कि पुष्पेंद्र की हत्या कर पुलिस बहादुरी दिखा रही है. पूरे मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए. अखिलेश ने कहा कि उपचुनाव के बाद पुष्पेंद्र के परिवार को न्याय दिलाने के लिए समाजवादी लोग सड़कों पर उतरेंगे. वो खुद इस साइकिल यात्रा की ललितपुर से शुरुआत करेंगे.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it