Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > कौशाम्बी > यूपी में कमीशन खोरी के विवाद में भाजपा नेताओं में खिंची तलवार

यूपी में कमीशन खोरी के विवाद में भाजपा नेताओं में खिंची तलवार

अब तो भाजपा नेता ही सरकार के सिस्टम पर सवाल उठाना शुरू कर दिए है।

 Shiv Kumar Mishra |  23 Feb 2020 4:01 AM GMT  |  कौशाम्बी

यूपी में कमीशन खोरी के विवाद में भाजपा नेताओं में खिंची तलवार

कौशाम्बी: कमीशन खोरी के चलते भाजपा नेताओं में तलवार खिंच रही है और भाजपा के नेता ही पार्टी का बंटाधार करने में लगे है। उन्नाव जनपद में भ्रष्टाचार के आरोप में जिलाधिकारी को सरकार ने निलंबित किया है तो भ्रष्टाचार के आरोप में बस्ती और संतकबीरनगर के एआरटीओ को भी सरकार ने निलंबित कर दिया है। इन अधिकारियों का निलंबन इस बात का साफ संकेत है कि भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है। तमाम प्रयास के बाद जिसे रोक पाने में भाजपा सरकार फेल हो चुकी है। अब तो भाजपा नेता ही सरकार के सिस्टम पर सवाल उठाना शुरू कर दिए है।

कौशाम्बी जिला पंचायत के अध्यक्ष पद पर भाजपा की अवधरानी काबिज है और जिला पंचायत की निधि से शुरू हो रहे विकास कार्य मे विभागीय अधिकारी द्वारा पहले 10 प्रतिशत कमीशन के देने का बाद ही कार्य के लिए स्वीकृत करने की बात कर रहे हैं योगी सरकार के भ्रष्ट अधिकारी।

बीजेपी नेता.चायल ब्लॉक प्रमुख सोनू कुमार ने बीजेपी विधायको समेत सांसद से शिकायत करने की बात के साथ भाजपा के कमीशनखोरी पर होहल्ला मचाना शुरू कर दिया है। जब जिले के जनप्रतिनिधियो से कमीशन की उम्मीद अधिकारी रख रहे हैं। ऐसे भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारी से आम जनता क्या हाल होगा?

भ्रष्टाचार का आरोप सिद्ध हुआ तो सरकार के इस सिस्टम पर सवाल उठना तो लाजिमी है। बीते दिनों सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव डीएम और बस्ती संतकबीरनगर के एआरटीओ को भ्रष्टाचार में लिप्त होने पर ससपेंड किया है लेकिन कौशाम्बी में बढ़ते भ्रष्टाचार पर अंकुश नही लग रहा है जिसका नतीजा अब भाजपा नेता ही एक दूसरे के भ्र्ष्टाचार के कृत्य को खोलने पर उतर आए है

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it